गृह मंत्रालय ने सरकारी और निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए Arogya Setu ऐप किया अनिवार्य

देश में जारी कोरोना संकट के बीच गृहमंत्रालय ने केंद्रीय कर्मचारियों के साथ-साथ अब निजी क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए भी आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य कर दिया है.

गृह मंत्रालय ने सरकारी और निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए Arogya Setu ऐप किया अनिवार्य

अब निजी क्षेत्र के लिए भी अनिवार्य हुआ आरोग्य सेतु ऐप

नई दिल्ली:

देश में जारी कोरोना संकट के बीच गृहमंत्रालय ने केंद्रीय कर्मचारियों के साथ-साथ अब निजी क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए भी आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य कर दिया है. मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि किसी भी कार्यालय में काम करने वाले के पास 4 मई से उनके मोबाइल पर आरोग्य सेतु ऐप होना जरूरी है. यदि किसी कर्मचारी के पास ऐप नहीं होगा तो उसकी जिम्मेदारी कंपनियों के प्रमुखों की होगी और उन पर कार्रवाई की जाएगी. हालांकि, घर से काम करने वालों के लिए इसकी अनिवार्यता नहीं की गयी है.  केंद्र सरकार ने अगले कुछ हफ्तों में 30 करोड़ ऐप डाउनलोड करवाने का लक्ष्य भी रखा है.

गौरतलब है कि Arogya Setu ऐप को भारत में तेज़ी से डाउनलोड और इंस्टॉल किया जा रहा है. ऐप ने लॉन्च के कुछ दिनों के अंदर लाखों डाउनलोड्स हासिल कर लिए थे और अब लेटेस्ट जानकारी के मुताबिक, आरोग्य सेतु ऐप को को 7.5 करोड़ (75 मिलियन) बार डाउनलोड किया जा चुका है. आरोग्य सेतु ऐप को 2 अप्रैल को लॉन्च किया गया था और तब से तेजी से बढ़ रहा है.  लेकिन इधर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ऐप को लेकर सवाल खड़े किये हैं. राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा है कि सरकार को भय का लाभ नहीं उठाना चाहिए.

VIDEO: कोरोनावायरस के मद्देनजर आरोग्य सेतु एप अनिवार्य करने का प्रस्ताव

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com