Budget
Hindi news home page

गृह मंत्रालय ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के उल्लंघन के बारे में बीएसएफ से मांगी रिपोर्ट

ईमेल करें
टिप्पणियां
गृह मंत्रालय ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के उल्लंघन के बारे में बीएसएफ से मांगी रिपोर्ट

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: गृह मंत्रालय ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) से भारत में घुसपैठ करके प्रवेश करने और पठानकोट में आतंकी हमले को अंजाम देने की घटना के बारे में रिपोर्ट पेश करने को कहा है। बीएसएफ पाकिस्तान से लगने वाली अंतरराष्ट्रीय सीमा की चौकसी करती है।

आधिकारिक सू़त्रों के अनुसार, भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर घुसपैठ पर गहरा संज्ञान लेते हुए गृह मंत्रालय ने बीएसएफ से यह बताने को कहा कि भारी हथियारों से लैस आतंकवादी किस प्रकार से सीमा पार करके भारत में घुसे और ऐसी घटना को अंजाम दिया।

हाल के कुछ समय में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर घुसपैठ के कई मामले सामने आए हैं, जिसमें जुलाई की एक घटना शामिल है जब भारी हथियारों से लैस तीन आतंकवादी गुरदासपुर में प्रवेश कर गए थे और एक पुलिस अधीक्षक समेत सात लोगों की हत्या कर दी थी। सूत्रों ने कहा कि प्रारंभिक रिपोर्ट के अनुसार, आतंकवादी संभवत: नदी से होकर पंजाब में प्रवेश करने में सफल रहे होंगे, जहां बाड़बंदी नहीं है।

नियंत्रण रेखा सहित पाकिस्तान के साथ भारत की 3,323 किलोमीटर लंबी सीमा है, इसमें से 553 किलोमीटर पंजाब में, 1225 किलोमीटर जम्मू कश्मीर में है।

बीएसएफ पंजाब में 178 सीमा चौकियों का संचालन करता है, जबकि जम्मू कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 90 सीमा चौकियां है। पठानकोट वायु सेना स्टेशन में घुसे आतंकवादियों के खिलाफ अभियान का सोमवार को तीसरा दिन है और रात में भी रुक रुक कर गोलीबारी हुई।
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement