Delhi से भागकर हाथरस पहुंची बंधक बनाई गई लड़की, एमपी से युवक लेकर आय़ा था

सिलाई और कढ़ाई का काम सिखाने के बहाने से दिल्ली लाई जा रही एक लड़की भागकर हाथरस पहुंच गई. हाथरस पुलिस को यह लड़की बस अड्डे पर मिली. लड़की को बंधक बनाकर दिल्ली लाए जाने की बात कही जा रही है.

Delhi से भागकर हाथरस पहुंची बंधक बनाई गई लड़की, एमपी से युवक लेकर आय़ा था

हाथरस पुलिस ने एमपी के मंडला जिले की लड़की को बस अड्डे पर पाया ( फाइल फोटो)

हाथरस:

सिलाई और कढ़ाई का काम सिखाने के बहाने से दिल्ली लाई जा रही एक लड़की भागकर हाथरस पहुंच गई. हाथरस पुलिस को यह लड़की बस अड्डे पर मिली. लड़की को बंधक बनाकर दिल्ली लाए जाने की बात कही जा रही है. हालांकि हाथरस गैंगरेप कांड के बाद सतर्कता बरत रही यूपी पुलिस ने उसे बस अड्डे पर बैठे देखा और कोतवाली ले आई.

यह भी पढ़ें- हाथरस गैंगरेप और हत्या के मामले की जांच यूपी पुलिस से लेकर सीबीआई को सौंपी गई

Newsbeep

हाथरस पुलिस के मुताबिक, 17 साल की यह लड़की मध्य प्रदेश के मंडला जिले के डोंगर गांव की रहने वाली है. वह 12 अन्य लड़कियों के एक समूह के साथ एक सप्ताह पहले दिल्ली के लिए निकली थी. इन सभी को एक युवक परिवार की सहमति से दिल्ली लेकर आया था. लड़की ने पुलिस को बताया कि रास्ते में लड़कियों को शहर में बस स्टैंड के पास कमरा किराये पर लेकर रखा गया था. उसे उस जगह का नाम और पता मालूम नहीं है. बाद में उसे दिल्ली ले जाने वाले युवक पर कुछ शक हुआ तो वह किसी तरह वहां से भाग निकली.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दो से तीन दिन तक चलने के बाद लड़की शनिवार को हाथरस पहुंची. पुलिस ने उसे बस अड्डे में उसे बैठा देखा तो वह शहर कोतवाली ले आई. लड़की यह नहीं बता पा रही है कि कैसे वह दिल्ली से करीब दो सौ किलोमीटर दूर हाथरस पहुंची. पुलिस के नगर क्षेत्राधिकारी लड़की के परिवार के संपर्क में हैं और उसका बयान दर्ज कर लिया है. हाथरस के पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने बताया कि लड़की के परिजनों को सूचना दे दी गई है. जांच के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी.
 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)