'तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मेरा रास्ता रोकने की', सांप पर चिल्लाया नशे में धुत शख्स फिर दांतों से कर दिए...

कर्नाटक के कोलार जिले से एक ऐसी खबर सामने आई है जो आमतौर पर देखने और सुनने को नहीं मिलती. कोलार के मिस्तोरी गांव में नशे में धुत एक शख्स ने सांप पर ही अपनी भड़ास निकाल दी. 

'तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मेरा रास्ता रोकने की', सांप पर चिल्लाया नशे में धुत शख्स फिर दांतों से कर दिए...

प्रतीकात्मक.

बेंगलुरु:

देश में जारी कोरोना संकट के बीच लॉकडाउन के तीसरे चरण में लोगों को कुछ रियायतें दी गई हैं. इस दौरान कई राज्यों में शराब की दुकानें भी खोली गईं. सोमवार और मंगलवार दोनों दिन शराब के ठेकों पर लंबी-लंबी कतारें देखने को मिलीं. इस बीच कर्नाटक के कोलार जिले से एक ऐसी खबर सामने आई है जो आमतौर पर देखने और सुनने को नहीं मिलती. कोलार के मिस्तोरी गांव में नशे में धुत एक शख्स ने सांप पर ही अपनी भड़ास निकाल दी. 

एक वीडियो में बाइकसवार शराबी को सांप के ऊपर चिल्लाते हुए सुना जा सकता है कि 'तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मेरा रास्ता रोकने की. इसके बाद गुस्से में उस शराबी ने सांप को अपने दांतों से काटकर टुकड़े-टुकड़े कर दिये. बता दें कि शख्स अपनी बाइक से कहीं जा रहा था जब सांप उसके रास्ते से सांप गुजरा और उसे अपनी बाइक को रोकनी पड़ी.


इसके बाद गुस्से में उसने सांप पकड़कर अपने दातों से काटकर टुकड़े-टुकड़े कर दिये. बाद में उस व्यक्ति की पहचान कुमार के रूप में हुई, जिसने शराब की दुकान खुलने के बाद पहली बार शराब पी थी. वह नशे में धुत था और उसने अपने रास्ते में सांप को देखकर अपना आपा खो दिया. मालूम को कि वह सांप जहरीला नहीं था. सांप को को मारते हुए कुमार चिल्लाता रहा कि सांप ने उसे बाइक रोकने के लिए मजबूर किया था और इसकी मैंने उसे सजा दे दी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि कर्नाटक ने 4 मई को पहले दिन लगभग 45 करोड़ रुपए की शराब बेची. एक आउटलेट ने एक व्यक्ति को 52 हजार रुपये की शराब बेची थी. यह राज्य के आबकारी विभाग द्वारा दी गई अनुमति का उल्लंघन था. आबकारी विभाग ने विक्रेता के खिलाफ मामला दर्ज किया है, क्योंकि उसने 13 लीटर से अधिक शराब और 35 लीटर बीयर खरीदी दी, जबकि राज्य में प्रति दिन एक ग्राहक 2.6 लीटर देश में बनी विदेशी शराब और 18 लीटर बीयर खरीद सकता है.