Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

PM नरेंद्र मोदी कैसे दोगुनी करेंगे किसानों की आय? WTO में EU ने उठाया सवाल

अमेरिका तथा भारत में किसानों की मदद के लिए घोषित बड़ी योजनाओं पर विश्व व्यापार संगठन (WTO) के अन्य सदस्यों की पैनी नज़र है .

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM नरेंद्र मोदी कैसे दोगुनी करेंगे किसानों की आय? WTO में EU ने उठाया सवाल

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi)

खास बातें

  1. PM मोदी कैसे दोगुनी करेंगे किसानों की आय?
  2. WTO में EU ने उठाया सवाल
  3. भुगतानों के आकार-प्रकार को लेकर WTO के नियम काफी सख्त हैं
नई दिल्ली:

अमेरिका तथा भारत में किसानों की मदद के लिए घोषित बड़ी योजनाओं पर विश्व व्यापार संगठन (WTO) के अन्य सदस्यों की पैनी नज़र है, और यह बात WTO की कृषि समिति की तिमाही बैठक के लिए सोमवार को पेश किए गए सवालों से सामने आई है.

भुगतानों के आकार-प्रकार को लेकर WTO के नियम काफी सख्त हैं, और सदस्य देशों की सरकारें अन्य देशों पर बारीक नज़र रखती हैं, ताकि वे बेईमानी न कर सकें. 25-26 जून को होने वाली बैठक के लिए प्रस्तुत किए गए 62 पृष्ठों में किए गए सवालों में स्पष्टीकरण के आग्रहों से लेकर गैरकानूनी तरीके से किए गए भुगतानों को लेकर लगाए जा रहे आरोप तक शामिल हैं.

...जब संसद सदस्य की शपथ लेने के बाद दस्तखत करना भूल गए राहुल गांधी, राजनाथ सिंह ने दिलाई याद


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप तथा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी , दोनों नेताओं ने किसानों की आय को बढ़ाने को प्राथमिकता बताया है. एक तरफ डोनाल्ड ट्रंप इस वक्त चीन के साथ जारी कीमत युद्ध की वजह से हो रहे घरेलू नुकसान की भरपाई के उपायों में जुटे हैं, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारत की कृषि-आधारित अर्थव्यवस्था में मंदी का सामना करना पड़ रहा है.

यूरोपीय यूनियन (EU) ने भारत से यह स्पष्ट करने के लिए कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 1,000 खरब रुपये की योजनाओं के तहत वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के लिए 250 खरब रुपये (357.5 अरब अमेरिकी डॉलर) खर्च करने के प्रस्ताव में क्या है. EU ने पूछा है, "कृषि उत्पादों के वैश्विक बाजार मूल्यों तथा आवश्यकता से अधिक उत्पादन को रोकने के लिए उठाए गए कदमों के मद्देनज़र यह कैसे किया जाएगा...?"

मोदी सरकार के मंत्री ने संसद में पूछा- कहां हैं राहुल गांधी? कांग्रेस अध्यक्ष ने Tweet कर कही यह बात...

अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया ने भी भारत की कृषि क्षेत्र को दी जाने वाली नई 'ट्रांसपोर्ट और मार्केटिंग सहायता' की विस्तार से जानकारी मांगी है, जो ऑस्ट्रेलिया के मुताबिक एक्सपोर्ट सब्सिडी ही है, जिसे चरणबद्ध तरीके से खत्म किया जाना है. उधर, अमेरिका को भी ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, चीन, यूरोपीय यूनियन, भारत, न्यूज़ीलैंड तथा यूक्रेन से डोनाल्ड ट्रंप की 16 अरब डॉलर के 'मार्केटिंग फैसिलिटेशन पैकेज' पर सवालों का सामना करना पड़ा है.

Video: पीएम मोदी ने कहा, सभी दलों से सहयोग की अपील

टिप्पणियां

(इनपुट रॉयटर से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... 15 दस्तावेज देकर भी खुद को भारतीय साबित नहीं कर पाई असम की जाबेदा, कानूनी लड़ाई में खो बैठी सब कुछ

Advertisement