NDTV Khabar

मोदी सरकार के इस मंत्री ने कहा- 'डार्विन गलत थे, किसी ने बंदर को इंसान बनते नहीं देखा'

मोदी सरकार में मंत्री सत्यपाल सिंह ने सदियों से कायम डार्विन के विकासवाद के सिद्धांत को गलत करार दिया है.

3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मोदी सरकार के इस मंत्री ने कहा- 'डार्विन गलत थे, किसी ने बंदर को इंसान बनते नहीं देखा'

मोदी सरकार में मंत्री सत्यपाल सिंह

मुंबई: मोदी सरकार में मंत्री सत्यपाल सिंह ने सदियों से कायम डार्विन के विकासवाद के सिद्धांत को गलत करार दिया है. उन्होंने दावा किया कि डार्विन गलत थे, किसी ने बंदर को इंसान में बदलते नहीं देखा. केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री सत्यपाल सिंह ने कहा कि मानव विकास संबंधी चार्ल्स डार्विन के विकासवाद के सिद्धांत वैज्ञानिक तौर पर गलत है. 

यह भी पढ़ें - बाइबिल और ईश्वर के बारे में लिखी गई डार्विन की चिट्ठी 1,97,000 डॉलर में नीलाम

उन्होंने स्कूल और कॉलेज के पाठ्यक्रम में इसमें बदलाव की भी हिमायत की. साथ ही कहा कि जब से इस धरती पर इंसान आया है, तब से वह मानव रूप में ही है. यानी इंसान मानव के रूप में ही इस धरती पर आया है.  मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सिंह ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने कभी किसी कपि के इंसान बनने का उल्लेख नहीं किया है. उन्होंने कल संवाददाताओं से बातचीत में यहां कहा, ‘(इंसानों के विकास संबंधी) चार्ल्स डार्विन का सिद्धांत वैज्ञानिक रूप से गलत है. स्कूल और कॉलेज पाठ्यक्रम में इसे बदलने की जरूरत है.

यह भी पढ़ें - डार्विन की इस खास चिट्ठी को नीलामी से मिल सकते हैं 60 लाख रुपये

इंसान जब से पृथ्वी पर देखा गया है, हमेशा इंसान ही रहा है.’ ऑल इंडिया वैदिक सम्मेलन में हिस्सा लेने मध्य महाराष्ट्र के इस शहर में आए पूर्व आईपीएस अधिकारी ने कहा, ‘‘हमारे किसी भी पूर्वज ने लिखित या मौखिक रूप में कपि को इंसान में बदलने का जिक्र नहीं किया था.’ डार्विनवाद जैविक विकास से संबंधित सिद्धांत है. उन्नीसवीं सदी के अंग्रेज प्रकृतिवादी डार्विन और अन्य ने यह सिद्धांत दिया था.

टिप्पणियां
बता दें कि मंत्री बनने से पहले सत्यपाल सिंह मुंबई पुलिस के कमिश्नर भी रह चुके हैं. 

VIDEO: मोदी मंत्रिमंडल में चार पूर्व नौकरशाह भी शामिल (इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement