Surat Fire: सूरत के तक्षशिला कॉम्प्लेक्स में भीषण आग, 20 की मौत, कइयों ने जान बचाने के लिए लगाई छलांग

Surat Fire: गुजरात के सूरत के सरथाना इलाके में स्थित एक बहुमंजिली इमारत की दूसरी मंजिल पर लगी भीषण आग में 15 छात्रों सहित 19 लोगों की मौत.

खास बातें

  • गुजरात के सूरत में लगी भीषण आग
  • जिस फ्लोर पर आग लगी वहां चल रहा था कोचिंग सेंटर
  • अब तक 18 लोगों की मौत की खबर
सूरत:

Surat Fire: गुजरात के सूरत (Surat) के सरथाना इलाके में स्थित तक्षशिला कॉम्प्लेक्स (Takshila) की दूसरी मंजिल पर लगी भीषण आग में 20 लोगों की मौत हो गई. जिस फ्लोर पर आग लगी वहां कोचिंग सेंटर चल रहा था. आग से बचने के लिए कोचिंग सेंटर में पढ़ने वाले कुछ छात्रों ने ऊपर से छलांग लगा दी, जिन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया. न्यूज एजेंसी ANI ने सूरत के पुलिस कमिश्‍नर के हवाले से बताया कि हादसे में कम से कम 20 लोगों की मौत हुई है और इसकी संख्‍या बढ़ भी सकती है. मरने वाले में 15 बच्चे शामिल हैं, जिनकी उम्र 14-17 साल के बीच की है. गुजरात सरकार ने मरने वालों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की सहायता राशि का ऐलान किया गया है.

Lok Sabha Election Live Updates: कांग्रेस की कार्यसमिति और BJP की संसदीय दल की बैठक आज

पीएम मोदी (PM Modi) ने भी घटना पर दुख जताया है. प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने भी घटना पर दुख जताते हुए ट्वीट किया, 'सूरत में हुई इस त्रासदी से बेहद आहत हूं. मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं. प्रार्थना करता हूं कि हादसे में घायल लोग जल्‍द स्‍वस्‍थ हों.

वहीं, गुजरात सरकार और स्‍थानीय प्रशासन से प्रभावितों को हर संभव मदद पहुंचाने को कहा है.' गुजरात के मुख्‍यमंत्री कार्यालय ने कहा, 'मुख्‍यमंत्री विजय रूपानी ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं. मुख्‍यमंत्री ने घटना में मारे गए बच्‍चों के परिवार वालों को 4 लाख रुपये की वित्तीय सहायता देने की भी घोषणा की.

IAS बुशरा बानो की सक्सेस स्टोरी: सोशल मीडिया को बनाया हथियार और क्लियर कर दिया UPSC

अधिकारियों ने बताया कि सूरत (Surat Fire) के तक्षशिला परिसर की तीसरी और चौथी मंजिल पर आग लग गई थी. उन्होंने बताया कि हादसे में किसी के हताहत होने की अभी पुष्टि नहीं की गई है. टीवी चैनलों पर दिखाए जा रहे वीडियो में छात्र इमारत की तीसरी और चौथी मंजिल से कूदते नजर आ रहे हैं. अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि 19 दमकल गाड़ियों को मौके पर भेजा गया और आग पर काबू पाने के लिए दो हाइड्रोलिक प्लेटफार्म भी बनाए गए हैं.  स्थानीय लोग भी बचाव अभियान में अधिकारियों की मदद कर रहे हैं. दमकल अधिकारी ने बताया, ‘‘छात्रों ने आग से बचने के लिए तीसरी और चौथी मंजिल से कूदना शुरू कर दिया था. कई बच्चों को बचाकर अस्पताल पहुंचाया गया है. आग पर काबू पाने की कोशिश जारी है.''

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com