नीतीश कुमार ने पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर की ये भविष्यवाणी, तो शरद यादव बोले-नो कमेंट

\जदयू के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था, 2019 में उनसे मुकाबला करने की क्षमता किसी में नहीं है.

नीतीश कुमार ने पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर की ये भविष्यवाणी, तो शरद यादव बोले-नो कमेंट

जदयू के कद्दावर नेता शरद यादव.

खास बातें

  • नीतीश कुमार ने पीएम मोदी के 2019 में जीत तय होने की बात कही
  • शरद यादव ने इस बयान पर कुछ भी बोलने से मना किया
  • शरद यादव बिहार में महागठबंधन टूटने से हैं नाराज
नई दिल्ली:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2019 में ताजपोशी की बात कही तो उन्हीं की पार्टी जदयू के कद्दावर नेता शरद यादव ने इस मसले पर कुछ भी बोलने से मना कर दिया. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक मंगलवार को संसद सत्र में हिस्सा लेने पहुंचे शरद यादव ने कहा, 'मैं इस तरह के बयान पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता.' सोमवार को जदयू के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था, 2019 में उनसे मुकाबला करने की क्षमता किसी में नहीं है. उन्होंने दावा किया कि केंद्र की सत्ता पर अभी कोई दूसरा काबिज नहीं होगा. साल 2019 में नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में देखे जाने के संदर्भ में पूछे गए एक प्रश्न के जवाब में नीतीश कुमार ने कहा, 'कोई दूसरा काबिज नहीं होगा. उनके (मोदी) अलावा कोई और हो ही नहीं सकता. अभी उनसे मुकाबला करने की किसी में क्षमता नहीं है.' उन्होंने हालांकि नरेंद्र मोदी को नेता मानने संबंधित एक प्रश्न को टाल दिया. 

ये भी पढ़ें : नीतीश कुमार की सरकार के खिलाफ पटना हाईकोर्ट में दायर याचिका पर सुनवाई

महागठबंधन टूटने से काफी तकलीफ हुई: जनता दल-यूनाइटेड (जेडीयू) के वरिष्ठ नेता शरद यादव का कहना है कि ''बिहार में महागठबंधन टूटने से मुझे काफी तकलीफ हुई है. महागठबंधन बनाने के लिए नीतीश, लालू और मैंने काफी मेहनत की थी. जनता का विश्वास किसी भी सरकार के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है.''

पढ़ें: लालू का दावा - भाजपा के साथ नहीं जा सकते शरद यादव

एनडीटीवी से बातचीत में शरद यादव ने उक्त बात कही. उनसे जब पूछा गया कि बीजेपी से गठबंधन करने से पहले क्या आपकी राय ली गई थी?  इस पर उन्होंने कहा कि ''इस सवाल पर कुछ भी कहना मेरे लिए ठीक नहीं होगा.'' सांसद वीरेंद्र कुमार और अली अनवर की भी नीतीश कुमार से नाराजगी के सवाल पर उन्होंने कहा कि ''जो हालात हैं उसको लेकर मेरे मन में वेदना है.''

पढ़ें: नीतीश कुमार पर मौन शरद यादव ने मोदी सरकार पर किया यह हमला

शरद यादव से जब एनडीटीवी ने पूछा कि क्या आपने आगे के लिए कुछ सोचा है? तो उन्होंने कोई साफ उत्तर न देकर सिर्फ इतना कहा कि ''मैं इस बारे में अभी कुछ भी नहीं बोलूंगा.'' 

वीडियो: केसी त्यागी बोले, बीजेपी के साथ जाने का फैसला जेडीयू में सर्वसम्मति से लिया गया

शरद को नीतीश कुमार ने दिया ये जवाब: शरद यादव की नाराजगी पर नीतीश कुमार ने कहा कि उम्मीद है कि चीजें अपने आप दुरुस्त हो जाएंगी. जदयू की बिहार इकाई महत्वपूर्ण है और यह निर्णय मेरी उपस्थिति में लिया गया. यदि किसी को तकलीफ है तो पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में अपनी बात रख सकता है. माना जाता है कि नीतीश कुमार ने इशारों-इशारों में पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद यादव को यह जताने की कोशिश की है उन्होंने फैसला पार्टी के हित में लिया है.

ट्वीट कर मोदी सरकार पर शरद का निशाना: रविवार को शरद यादव ने ट्वीट किया था कि ना तो विदेशों में छिपा काला धन आया, ना ही पनामा पेपर में जिनके नाम थे वो पकड़े गए. इस पर बीजेपी के नेता अश्विनी चौबे ने कहा कि पीएम मोदी ने कहा है तो स्वदेश, विदेश का काला धन वापस आएगा.शरद जी को इतनी जल्द सरकार पर ग़ुस्सा नहीं उतारना चाहिए. वहीं जेडीयू के नेता  अली अनवर ने कहा कि शरद यादव ने बिल्कुल ठीक कहा है. संसद में भी वह कहते रहे हैं. कानून बनाकर बेरोजगारी के लिए भत्ता दे केंद्र सरकार.
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com