" प्रधानमंत्री के सामने मुझे परेशान किया गया": ममता बनर्जी ने नेताजी के समारोह को लेकर बीजेपी पर साधा निशाना

नेताजी (Netaji Subhas Chandra Bose) की 125वीं जयंती को लेकर कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में हुए कार्यक्रम में जब ममता बनर्जी बोलने को उठीं तो लोगों ने जय श्री राम के नारे लगाए, इससे ममता नाराज हो गईं

पीएम मोदी भी विक्टोरिया मेमोरियल पर हुए कार्यक्रम में शामिल हुए

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ( Mamata Banerje) ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर हुए समारोह में "जय श्री राम" (Jai shri Ram) को नारे को लेकर एक बार फिर बीजेपी पर हमला बोला है. ममता ने बीजेपी पर रबींद्र नाथ टैगोर, क्रांतिकारी संथाल नेता बिरसा मुंडा जैसे बंगाल के सभी सांस्कृतिक नायकों का अपमान करने का आरोप लगाया है.

यह भी पढ़ें- जिस समारोह में CM ममता के सामने लगे थे 'जय श्री राम' के नारे, क्या उसके पीछे थी BJP की चाल?

ममता ने सोमवार को एक समारोह में कहा, मैं उस कार्यक्रम में गई थी और कुछ उग्र, उन्मादी विद्रोहियों ने मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने चिढ़ाने की हिम्मत दिखाई. वे मुझे नहीं जानते हैं. अगर आप मुझे बंदूक दिखाएंगे तो मैं हथियारों का भंडार दिखाऊंगी. लेकिन मैं बंदूक की राजनीति में यकीन नहीं करती हूं. 


"आपने नेताजी (Netaji Subhas Chandra Bose) का अपमान किया. आपने टैगोर के जन्मस्थान की गलत जानकारी दी. आपने ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी. आपने एक गलत प्रतिमा पर माला चढ़ा दी, यह समझकर की कि वह बिरसा मुंडा थे. बंगाल की मुख्यमंत्री ने इस हमले के सहारे विधानसभा चुनाव में बाहरी बनाम भूमिपुत्र की बहस को हवा देने की कोशिश की है." विक्टोरिया मेमोरियल पर 23 जनवरी को सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर हुए समारोह में पीएम मोदी, राज्यपाल जगदीपधनखड़, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तमाम अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


प्रधानमंत्री के संबोधन के पहले जब ममता बोलने के लिए खड़ी हुईं तो वहां भीड़ की ओर से "जय श्री राम" के नारे लगाए गए. इससे नाराज ममता ने कहा कि यह सरकारी कार्यक्रम की मर्यादा के खिलाफ है.आप किसी को बुलाकर इस तरह बेइज्जत नहीं कर सकते. इतना कहने के बाद जय हिन्द, जय बांग्ला बोलते हुए वह मंच छोड़कर चली गईं.