IAF चीफ बोले- हम 44 साल पुराने मिग-21 उड़ा रहे हैं, इतनी पुरानी तो कोई कार भी नहीं चलाता

एयरचीफ मार्शल बी.एस. धनोआ ने कहा, "हम स्वदेशी तकनीक द्वारा पुराने हो चुके लड़ाकू उपकरणों को बदलने का इंतज़ार नहीं कर सकते'

खास बातें

  • 44 साल पुराने मिग-21 उड़ा रही IAF
  • IAF प्रमुख ने कसा तंज
  • कहा- इतनी पुरानी तो कोई कार भी नहीं चलाता
नई दिल्ली:

पुराने पड़ चुके भारतीय वायुसेना के विमान मिग-21 पर तंज कसते हुए वायुसेना प्रमुख एयरचीफ मार्शल बीएस धनोवा ने कहा कि वायुसेना अभी भी 44 साल पुराने मिग-21 विमान उड़ा रही है, जबकि इतने साल बाद कोई अपनी कार तक नहीं चलाता. वायुसेना का मिग 21 विमान चार दशक से ज्यादा पुराना हो गया है. लेकिन अभी भी यह विमान वायुसेना की रीढ़ की हड्डी बना हुआ है. दुनिया में शायद ही कोई देश इतना पुराना लड़ाकू विमान उड़ाता है. वजह है वायुसेना के पास मिग 21 के विकल्प के तौर पर कोई विमान नहीं हैं. इन विपरीत परिस्थितियों के बावजूद वायुसेना पूरे दमखम के साथ इसके भरोसे न केवल सरहद की हिफाजत करती है बल्कि दुश्मन की चुनौतियों का जवाब भी देती है. 

वायुसेना प्रमुख ने यह बात दिल्ली में एयरफोर्स ऑडिटोरियम में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में कही. मौका था वायुसेना के आधुनिकीकरण और स्वदेशीकरण को लेकर हो रहे सेमीनार का. इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय वायुसेना एक पेशेवर वायुसेना है, बालाकोट हमले के बाद जिसका लोहा दुनिया ने माना है. 

एयरफोर्स के जाबांज जवानों ने नदी में फंसे लोगों को कुछ इस तरह बचाया, देखें VIDEO

बता दें, अब तक वायुसेना के करीब 500 से ज्यादा मिग-21 लड़ाकू विमान हादसे का शिकार हो चुके हैं. वायुसेना की जरूरत करीब 42 स्कावड्रन की है लेकिन उसके पास है करीब 31 स्कावड्रन है. फ्रांस से खरीदे गये रफाल की पहली खेप अगले महीने सितंबर में आएगी. फ्रांस से भारत ने 36 रफाल खरीदने का सौदा किया है, जिसकी डिलिवरी 2022 तक होगी.
वायुसेना ने 114 और लड़ाकू विमान खरीदने का टेंडर जारी किया है. 

भारत-पाकिस्तान सीमा पर तनाव पर वायुसेना चीफ बी एस धनोआ ने कहा, 'हमने देखा है कि उनकी क्या तैनाती है. भारतीय वायुसेना हमेशा से सतर्क रहती है. ऐसा नहीं है कि तनाव हुआ है तो हम सतर्क हैं. एयर डिफेंस सिस्टम की जिम्मेदारी हमारी है तो हम सतर्क हैं.'

महिला वायुसेना अधिकारी ने कहा, अभिनंदन को पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को मार गिराते हुए देखा

एयरचीफ मार्शल बी.एस. धनोआ ने कहा, "हम स्वदेशी तकनीक द्वारा पुराने हो चुके लड़ाकू उपकरणों को बदलने का इंतज़ार नहीं कर सकते, न ही हर रक्षा उपकरण को विदेश से आयात करना समझदारी होगी... हम अपने पुराने हो चुके हथियारों को स्वदेश-निर्मित हथियारों से बदल रहे हैं..." इसके अलावा पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा को तीन साल का सेवाविस्तार दिए जाने पर एयरचीफ मार्शल बी.एस. धनोआ ने कहा, "मैं नहीं जानता, उनका सिस्टम क्या है, और वह कैसे काम करता है..."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वहीं केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, "हमने हाल ही में सरकारी इकाइयों की टेस्ट फैसिलिटी को निजी रक्षा क्षेत्र को उपलब्ध कराने के प्रस्ताव को मंज़ूरी दी है... औपचारिक सरकारी आदेश जारी किया जाएगा, और इससे कई बाधाएं दूर हो गई हैं..." साथ ही सिंह ने कहा, "भारतीय वायुसेना तकनीकी रूप से अत्याधुनिक तथा बेहद सक्षम सेना है, और पड़ोस में मौजूद आतंकवादी ठिकानों पर हाल ही में किया गया हमला भारतीय सशस्त्र सेनाओं की इस अजेय इकाई की पहुंच और मारक क्षमता के बारे में काफी कुछ बताता है..."

VIDEO: बालाकोट एयर स्‍ट्राइक के बाद हमारे एयरस्पेस में नहीं घुसा पाक : वायुसेना प्रमुख