IAF के लड़ाकू विमान होंगे और पावरफुल, सुखोई-30MKI को इजराइल के स्पाइस-2000 बमों से लैस करने की तैयारी

भारतीय वायुसेना (Indian AirForce) अपने लड़ाकू विमानों को और अधिक शक्तिशाली बनाने की कोशिश के तौर पर सुखोई 30एमकेआई को इजराइल की स्पाइस-2000 लेजर निर्देशित बमों से लैस करने की प्रक्रिया में है.

IAF के लड़ाकू विमान होंगे और पावरफुल, सुखोई-30MKI को इजराइल के स्पाइस-2000 बमों से लैस करने की तैयारी

भारत के लड़ाकू विमान को और शक्तिशाली बनाने की तैयारी

खास बातें

  • IAF के लड़ाकू विमान होंगे पावरफुल
  • सुखोई-30MKI को इजराइल के स्पाइस-2000 बमों से लैस करने की तैयारी
  • आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी
नई दिल्ली:

भारतीय वायुसेना (Indian AirForce) अपने लड़ाकू विमानों को और अधिक शक्तिशाली बनाने की कोशिश के तौर पर सुखोई 30एमकेआई को इजराइल की स्पाइस-2000 लेजर निर्देशित बमों से लैस करने की प्रक्रिया में है. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. अभी भारतीय वायुसेना (Indian AirForce) के मिराज-2000 विमान स्पाइस-2000 बमों से लैस हैं और इन विमानों का हाल ही में पाकिस्तान में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के बड़े आतंकी शिविर पर हमला करने के लिए इस्तेमाल किया गया था. 

मोदी सरकार के मंत्री का दावा, बालाकोट हमले में इतने आंतकवादी मारे गए - देखें Video

आधिकारिक सूत्रों ने बताया, ‘‘भारतीय वायुसेना (Indian AirForce) अपने लड़ाकू विमानों को और शक्तिशाली बनाने के लिए सुखोई-30एमकेआई को इजराइल के स्पाइस-2000 बमों से लैस करने की प्रक्रिया में है.'' यह कदम भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव के बाद सामने आया है. इससे पहले रक्षा मंत्रालय ने पिछले हफ्ते हुई हवाई झड़प के दौरान भारतीय वायुसेना के एक सुखोई - 30 लड़ाकू विमान को मार गिराने के पाकिस्तान के दावे को मंगलवार को खारिज कर दिया था. 

ऑपरेशन बालाकोट: BJP नेता बोले- 'पाकिस्तान की जरूरत नहीं, देश को नुकसान पहुंचाने के लिए ममता बनर्जी ही काफी'

गौरतलब है कि बालाकोट (पाकिस्तान) में जैश ए मोहम्मद के आतंकवादी प्रशिक्षण केंद्र पर 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना के बम गिराने के एक दिन बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तानी वायुसेना ने कश्मीर में सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमले की नाकाम कोशिश की थी. उसी दौरान यह हवाई झड़प हुई थी. मंत्रालय ने इस हवाई झड़प का ब्यौरा देते हुए कहा कि पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को रोकने के लिए तैनात सभी सुखोई - 30 लड़ाकू विमान सुरक्षित रूप से (अपने एयरबेस पर) लौट आए. उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने भारतीय वायुसेना के एक मिग 21 लड़ाकू विमान को गिराया था जबकि भारत ने पाकिस्तानी वायुसेना के एफ 16 को मार गिराया था. 

पाकिस्तान की तरफ से फिर हमला हुआ तो सभी विकल्प खुले, अमेरिका को सौंपे F-16 इस्तेमाल किए जाने के सबूत: सूत्र

पाक ने दावा किया था कि भारत के साथ हुई इस झड़प में उसने हिंदुस्तान के दो लड़ाकू विमान गिराए हैं. मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तानी वायुसेना के लड़ाकू विमानों की नियंत्रण रेखा के उस पार मौजूदगी को समय रहते भांप लिया गया और अतिरक्त लड़ाकू विमानों को उन्हें रोकने के लिए भेजा गया. मंत्री ने कहा कि भारत की ओर से मिराज 2000, सुखोई 30 और मिग 21 बाइसन को इस कार्य में लगाया गया और पाक वायुसेना को हड़बड़ी में लौटने के लिए मजबूर कर दिया गया और इस तरह वे अपने लक्ष्य से चूक गए. 

VIDEO: रवीश की रिपोर्ट : क्या संख्या से तय होगा देशभक्ति का जज्बा

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट भाषा से)