सेंट्रल विस्टा का विस्तार यमुना तक, सरकार ने योजना के अंतिम चरण का किया एलान

परियोजना का अंतिम चरण 'नव भारत उदयन' होगा जो राजधानी में पुराने किले के पास यमुना नदी के तट पर विकसित किया जाएगा और राष्ट्रपति ङवन से इंडिया गेट तक मौजूद 2.9 किमोमीटर लंबे सेंट्रल विस्टा का विस्तारित हिस्सा होगा.

सेंट्रल विस्टा का विस्तार यमुना तक, सरकार ने योजना के अंतिम चरण का किया एलान

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार ने सेंट्रल विस्टा परियोजना (Central Vista Project) के अंतिम चरण का एलान करते हुए कहा है कि इसका निर्माण आजादी के 75वें वर्षगांठ के उपलक्ष्य में अगस्त 2022 तक किया जाएगा. सरकार ने इस मल्टी-प्रोजेक्ट के लिए एक डिजाइन प्रतियोगिता की घोषणा करते हुए प्रोजेक्ट की समयरेखा और साइट स्थान का भी एलान किया है. परियोजना का अंतिम चरण 'नव भारत उदयन' होगा जो राजधानी में पुराने किले के पास यमुना नदी के तट पर विकसित किया जाएगा और राष्ट्रपति ङवन से इंडिया गेट तक मौजूद 2.9 किमोमीटर लंबे सेंट्रल विस्टा का विस्तारित हिस्सा होगा.

20,000 करोड़ रुपये के सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत नई संसद भवन के अलावा तीन किलोमीटर की परिधि में राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडिया गेट तक केंद्र सरकार के कई दफ्तरों का भी निर्माण होना है. परियोजना के तहत राजपथ के दोनो किनारों पर सरकारी दफ्तरों का निर्माण होगा, जो नॉर्थ ब्लॉक से शुरू होगा. इसके बाद, यमुना के तट पर, अद्भुत संरचना के साथ नव भारत उद्यान विकसित किया जाएगा.

सेंट्रल विस्टा प्रोटेक्ट : केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा, 2026 के बाद संसद में सभी सांसदों को सीटें देना असंभव होगा

सरकार द्वारा जारी बयान के मुताबिक, "20.22 एकड़ में फैला नव भारत उद्यान खुला रहेगा और इसमें अद्भुत संरचना के साथ-साथ इन्फोटेनमेंट की सुविधा जैसे स्फीयर ऑफ यूनिटी, मिलिस्टोन्स वॉकवे, जर्नी ऑफ इंडिया, टेक डोम, एम्फीथिएटर आदि होंगे. विकसित किया जा रहा नया डिजायन भारत की समृद्ध ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत, वैज्ञानिक उपलब्धियां, और न्यू इंडिया की विविधता और आकांक्षाओं में एकता का प्रतीक होगा."

Newsbeep

जल्द ही इंडिया गेट को रोशन करेंगे रंगीन फव्वारे, लाइट शो का मजा भी ले सकेंगे सैलानी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सरकार ने कहा कि उद्यान में विकसित होने वाली असाधारण संरचना एक टॉवर या एक मूर्तिकला हो सकती है "या किसी अन्य निर्मित रूप में भी होसकती है लेकिन वहां कोई भवन नहीं होगा. सरकार ने इसके लिए एक डिजाइन प्रतियोगिता का आयोजन किया है, जो 12 नवंबर से शुरू हो गई. प्रतियोगिता के परिणाम, जिसमें, 5 लाख का प्रथम पुरस्कार होगा, दिसंबर के अंतिम सप्ताह में घोषित किया जाएगा.