आजम खान ने माफी नहीं मांगी तो होगी सख्त कार्रवाई, स्पीकर के साथ हुई नेताओं की बैठक में लिया गया फैसला

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला के साथ सभी पार्टियों के फ्लोर लीडरों की बैठक में तय हुआ कि बिरला आजम खान से सदन में माफी मांगने के लिए कहेंगे

आजम खान ने माफी नहीं मांगी तो होगी सख्त कार्रवाई, स्पीकर के साथ हुई नेताओं की बैठक में लिया गया फैसला

आजम खान को कार्रवाई से बचने के लिए सोमवार को लोकसभा में सांसद रमा देवी से माफी मांगनी होगी.

खास बातें

  • आजम खान ने माफी नहीं मांगी तो उन पर लोकसभा स्पीकर करेंगे कार्रवाई
  • महिला सांसदों ने स्पीकर को लिखी चिट्ठी, आजम पर कड़ी कार्रवाई की मांग
  • रमा देवी ने कहा- आजम खान को पांच साल के लिए निकाल दिया जाए
नई दिल्ली:

लोकसभा में सांसद और पीठासीन सभापति रमा देवी (Rama Devi) पर अनैतिक टिप्पणी करने के मामले में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan) यदि सोमवार को सदन में उनसे माफी नहीं मांगते हैं तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई हो सकती है. लोकसभा में  गुरुवार को आजम खान द्वारा की गई टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) ने नेताओं की बैठक बुलाई थी.

सांसद आजम खान (Azam Khan) के खिलाफ कार्रवाई के मुद्दे पर स्पीकर बिरला के चैंबर में नेताओं की बैठक हुई. लोकसभा स्पीकर के साथ सभी पार्टियों के सभी फ्लोर लीडरों की इस बैठक में तय हुआ कि ओम बिरला आजम खान को सदन में माफी मांगने के लिए कहेंगे. अगर आजम खान माफी नहीं मांगेंगे तो उनके खिलाफ लोकसभा स्पीकर कार्रवाई करेंगे. 

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा  कि “सोमवार को आजम खान से सदन में बिना शर्त माफी मांगने के लिए कहा जाएगा. अगर वे माफी नहीं मांगते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई करने के लिए स्पीकर को अधिकृत किया गया है.”

आजम खान पर मायावती का बयान- उन्हें संसद में ही नहीं बल्कि समस्त महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए

कुछ महिला सांसदों ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को चिट्ठी लिखी है. इसमें आजम खान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई है. रमा देवी ने कहा है कि आजम खान को पांच साल के लिए निकाल दिया जाए.

इससे पहले शुक्रवार को लोकसभा में बीजेपी, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, एनसीपी सहित सभी दलों ने पीठासीन सभापति रमा देवी के बारे में आजम खान की टिप्पणी की पार्टी लाइन से हटकर कड़ी निंदा की और स्पीकर से इस मामले में कठोर कार्रवाई करने की मांग की. इस मामले पर शून्यकाल में निचले सदन में विभिन्न दलों की महिला सांसदों समेत दलों के नेताओं ने अपनी बात रखी. महिला सांसदों ने स्पीकर से ऐसी कार्रवाई करने की मांग की जो ‘नजीर' बन सके.

निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी ने आजम खान के खिलाफ की कार्रवाई की मांग, अन्य दलों की महिला सांसदों ने भी की निंदा

विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि या तो आजम खान इसके लिए माफी मांगें या उन्हें निलंबित कर दिया जाए. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विभिन्न दलों के नेताओं एवं सदस्यों की इस मुद्दे बात सुनने के बाद तय किया कि वे सभी दलों के नेताओं के साथ बैठक करके इस बारे में निर्णय करेंगे.

VIDEO : आजम खान माफी मांगें, अन्यथा उन्हें सस्पेंड किया जाए

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com