NDTV Khabar

IGNOU बना देश का पहला कैशलेस विश्वविद्यालय, ज्ञानवाणी चैनल भी जल्द शुरू होगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IGNOU बना देश का पहला कैशलेस विश्वविद्यालय, ज्ञानवाणी चैनल भी जल्द शुरू होगा

इग्नू दुनिया का सबसे बड़ा मुक्त विश्वविद्यालय है

लखनऊ:

कैशलेस इकनामिक की तरफ कदम बढ़ाते हुए विश्व के सबसे बड़े विश्वविद्यालय इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) ने नए सत्र में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. इस प्रक्रिया के बाद इग्नू देश का सबसे पहला कैशलेस विश्वविद्यालय बन गया है. वृंदावन योजना स्थित लखनऊ के क्षेत्रीय केंद्र में इग्नू के कुलपति प्रो. रवीन्द्र कुमार ने लखनऊ प्रवास के दौरान आयोजित सभा में यह घोषणा की.

कुलपति रवीन्द्र कुमार ने बताया कि इस वर्ष से इग्नू में प्रवेश एवं पुन: पंजीकरण की प्रक्रिया पूर्ण रूप से ऑनलाइन कर दी गई है. आवेदन के लिए लिंक इग्नू की वेबसाइट पर उपलब्ध है, और इच्छुक छात्र इग्नू की वेबसाइट पर उपलब्ध इस लिंक से इग्नू में प्रवेश एवं पुन: पंजीकरण के लिए आवेदन कर सकते हैं.

उन्होंने बताया कि जून, 2017 की सत्रांत परीक्षाओं के लिए आवेदन प्रक्रिया भी पूर्णत: ऑनलाइन है एवं इच्छुक अभ्यर्थी 30 मार्च, 2017 तक जून की परीक्षाओं में भाग लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं.


उन्होंने कहा कि ऑनलाइन आवेदन की इन प्रक्रियाओं द्वारा इग्नू भारत का सर्वप्रथम कैशलेस विश्वविद्यालय बन गया है. कैशलेस व्यवस्था को पूरी तरह लागू करने के लिए सभी क्षेत्रीय केन्द्रों पर पीओएस मशीन लगाई जा रही हैं. क्षेत्रीय केन्द्र, लखनऊ में भी मार्च के प्रथम सप्ताह में पीओएस मशीन के द्वारा इच्छुक अभ्यर्थी अपना शुल्क ऑनलाइन जमा कर सकते हैं.

कुलपति ने बताया कि ज्ञानवाणी एवं ज्ञानदर्शन चैनल भी जल्द शुरू हो जाएगा. इग्नू की अध्ययन सामग्री भी इग्नू की वेबसाईट पर ई-ज्ञानकोष के नाम से उपलब्ध है, जिससे कोई भी ज्ञान प्राप्त कर सकता है. ई-धारा के माध्यम से इग्नू के कुछ विद्यापीठ अपने शिक्षार्थियों को इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने का कार्य भी कर रहे हैं.

टिप्पणियां

 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement