आईआईएम को मिलेगी पूरी स्वायत्तता, जल्द ही सामने आएगी सरकार की नई शिक्षा नीति

आईआईएम को मिलेगी पूरी स्वायत्तता, जल्द ही सामने आएगी सरकार की नई शिक्षा नीति

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि सरकार की शिक्षा नीति का नया मसौदा दो-तीन माह में जारी हो जाएगा.

मुंबई:

आने वाले समय में भारतीय प्रबंधन संस्थानों यानी की इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम) को पूरी स्वायत्तता मिल जाएगी. शिक्षा में रिसर्च और नए प्रयोगों पर जोर रहेगा. केंद्र सरकार की नई शिक्षा नीति में इसी तरह के कई बदलाव नजर आएंगे. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को मुंबई में इसके संकेत दिए.

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सरकार रीड्राफ्ट शिक्षा नीति पूरी करने के कगार पर है. उम्मीद है कि दो-तीन महीने में इसे जारी कर दिया जाएगा. इंडिया टुडे कॉनक्लेव में जावड़ेकर ने कहा कि सरकार शिक्षा नीति का मसौदा फिर से तैयार करने पर जोर दे रही है. इसमें भारतीय प्रबंध संस्थानों को पूरी स्वायत्तता दी जाएगी और शोध एवं नवोन्मेष पर जोर दिया जाएगा.

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘हमने कवायद पूरी कर ली है और दो-तीन महीने में रीड्राफ्ट नीति जारी कर दिए जाने की उम्मीद है. शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए पहले के कुछ फैसलों पर फिर से विचार किए जाने की भी जरूरत है.’’

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सरकार की शिक्षा नीति लंबे अरसे से बहस की विषय रही है. इसमें बदलाव की मांग समय-समय पर होती रही है. शिक्षा नीति के मसौदे को लेकर भी सहमति नहीं बनने के कारण इसे फिर से तैयार किया जा रहा है.
(इनपुट एजेंसी से)