सबसे शक्तिशाली स्वदेशी रॉकेट 'बाहुबली' की तस्वीरें सामने आईं, ऊंचाई जानकर हो जाएंगे हैरान

'बाहुबली' को 15 जुलाई को आधी रात के बाद दो बजकर 51 मिनट पर लॉन्च किया जाएगा, राष्ट्रपति कोविंद भी रहेंगे मौजूद

खास बातें

  • भारत की चांद तक की यात्रा की शुरुआत करेगा बाहुबली
  • ऊंचाई 15 स्टोरी बिल्डिंग के बराबर, वजन 640 टन
  • चार टन वजनी सेटेलाइट को आसमान में ले जाने में सक्षम
नई दिल्ली:

भारत की चांद की यात्रा की शुरुआत जल्द ही होने वाली है. इस दिशा में पहले कदम के रूप में रॉकेट बाहुबली की लॉन्चिंग 15 जुलाई को होने वाली है. श्रीहरिकोटा से लॉन्चिंग होगी और इस मौके पर वहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी मौजूद रहेंगे.   

भारत के बाहुबली रॉकेट की तस्वीरें सामने आई हैं. यह रॉकेट अपने लॉन्चपैड पर खड़ा हुआ नजर आ रहा है. यह भारत की चांद तक की यात्रा की शुरुआत करेगा. बाहुबली के ऊपर ही भारत के मिशन चंद्रायन-2 की कामयाबी निर्भर करती है.

चंद दिनों बाद 15 जुलाई को आधी रात के बाद दो बजकर 51 मिनट पर इसे लॉन्च किया जाएगा. यह अब तक का सबसे शक्तिशाली लॉन्चर है जिसे पूरी तरह से देश में बनाया गया है.

ct0fh78o

बाहुबली का वजन 640 टन है. साथ ही ये अब तक का सबसे ऊंचाई वाला लॉन्चर भी है. इसकी ऊंचाई 15 स्टोरी बिल्डिंग के बराबर है.

8mlps82

रॉकेट बाहुबली चार टन वजनी सेटेलाइट को आसमान में ले जाने में सक्षम है.

9s99rc9g

रॉकेट की लॉन्चिंग के समय राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी श्रीहरिकोटा के प्रक्षेपण स्थल पर वैज्ञानिकों की टीम के साथ मौजूद रहेंगे.

VIDEO : चंद्रयान - 2 का प्रक्षेपण 15 जुलाई को

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com