मौसम विभाग ने उत्‍तर भारत में अगले चार दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया, जानें क्‍या हैं इसके मायने...

मौसम विभाग ने कहा, ‘‘ शुष्क उत्तरी/ उत्तर-पश्चिमी हवाओं के चलते उत्तर-पश्चिम भारत के ज्यादातर हिस्सों में अगले चार-पांच दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे रहने की संभावना है .’’

मौसम विभाग ने उत्‍तर भारत में अगले चार दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया, जानें क्‍या हैं इसके मायने...

मौसम विभाग के अनुसार, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, यूपी एवं उत्तराखंड में अगले तीन दिनों तक शीतलहर चल सकती है

खास बातें

  • मौसम की बहुत ही प्रतिकूल संभावना के लिए जारी होता है ऑरेंज अलर्ट
  • मैदानी इलाकों में न्‍यूततम तापमान सामान्‍य से कम रहेगा
  • उत्‍तर भारत के राज्‍यों में शीत लहर चलने की संभावना
नई दिल्‍ली:

तापमान में हो रही गिरावट के बीच भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने उत्तरी मैदानी क्षेत्रों के वास्ते अगले चार दिनों के लिए शीतलहर के पूर्वानुमान के साथ ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. तमिलनाडु और पुडुचेरी के लिए भारी वर्षा के पूर्वानुमान के साथ ऐसा ही अलर्ट जारी किया गया है.विभाग ने कहा कि उत्तरी भारत के मैदानी क्षेत्रों में इस दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहने की संभावना है. उसने कहा, ‘‘ शुष्क उत्तरी/ उत्तर-पश्चिमी हवाओं के चलते उत्तर-पश्चिम भारत के ज्यादातर हिस्सों में अगले चार-पांच दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे रहने की संभावना है जिससे पंजाब, हरियाणा के कुछ हिस्सों, चंडीगढ़, और दिल्ली, उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड में अगले तीन दिनों तक शीतलहर चलने की आशंका है.'' विभाग ने कहा, ‘‘पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के कुछ हिस्सों में तथा उत्तरप्रदेश, उत्तरी मध्यप्रदेश एवं राजस्थान में छिटपुट स्थानों पर अगले तीन दिन शीत लहर/ तेज शीतलहर चलने की संभावना है.''

राजस्‍थान में सर्दी ने किया बेहाल, ज्‍यादातर शहरों में न्‍यूनतम तापमान 0 से 8 डिग्री के बीच

मौसम विभाग ने कहा कि अगले चार-पांच दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिमी भारत में छिटपुट स्थानों पर सामान्य से घना कोहरा छाया रह सकता है.विभाग ने 13-16 जनवरी के लिए पंजाब, हरियाणा और उत्तरप्रदेश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. उसने 13 जनवरी के लिए राजस्थान के लिए भी अलर्ट जारी किया है.

दिल्ली, हरियाणा के कुछ हिस्सों में हुई बारिश, बढ़ी ठिठुरन


मौसम की तीव्रता के आधार पर विभाग के चार रंगों के कोड हैं. ऑरेंज अलर्ट मौसम की बहुत ही प्रतिकूल संभावना के लिए तैयार रहने का संकेत होता है. लाल अलर्ट संभावित अत्यधिक प्रतिकूल मौसम से जान-माल के नुकसान की संभावना की चेतावनी होता है. हरा अलर्ट सामान्य मौसम दशा का प्रतीक है और पीला अलर्ट बिगड़ते मौसम पर नजर रखने का संकेत है. कोमोरिन क्षेत्र में चक्रवात के प्रभाव से तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल, माहे और लक्षद्वीप में अगले 2-3 दिन वर्षा होने की संभावना है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)