NDTV Khabar

करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से लौटेगा मानसून: आईएमडी

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने रविवार को मानसून के लौटने के बारे में बात करते हुए कहा कि करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से मानसून के लौटने की उम्मीद है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से लौटेगा मानसून: आईएमडी

बिहार में बाढ़

खास बातें

  1. बिहार की राजधानी पटना तो करीब-करीब बाढ़ के पानी में डूब ही गई
  2. करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से मानसून के लौटने की उम्मीद
  3. आईएमडी ने वर्षा का दीर्घ कालिक औसत (LPA) 110 फीसद दर्ज किया
नई दिल्ली:

उत्तर भारत में मानसून इस बार जमकर बरसा है, जिसके चलते उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों को बाढ़ का सामना करना पड़ा. बिहार की राजधानी पटना तो करीब-करीब बाढ़ के पानी में डूब ही गई. यही हाल उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस का भी रहा. हालांकि इन दिनों तक मानसून उत्तर भारत से लौट जाता था लेकिन इस बार वह देर तक टिका रहा है. अब भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने रविवार को मानसून के लौटने के बारे में बात करते हुए कहा कि करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से मानसून के लौटने की उम्मीद है. 

बिहार में आफत की बारिश: अब तक 41 की मौत, 16 लाख से ज्यादा प्रभावित, 11 हजार को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया

बता दें कि मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक मानसून की वापसी में यह अब तक का सबसे अधिक विलंब है. इस साल मानसून 'सामान्य से अधिक' रहा है और आईएमडी ने वर्षा का दीर्घ कालिक औसत (LPA) 110 फीसद दर्ज किया है. LPA 1961 से 2010 के बीच 88 सेंटीमीटर था. मौसम विभाग ने एक पूर्वानुमान में कहा, 'राजस्थान में औसत समुद्र तल से करीब डेढ़ किमी ऊपर छह अक्टूबर के आस-पास हवा के उच्च दबाव का क्षेत्र बनने के कारण उत्तर पश्चिमी भारत से 10 अक्तूबर के करीब दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी शुरू होने की उम्मीद है.' 


25 साल बाद मॉनसून ने तोड़े कई रिकॉर्ड, 1994 के बाद पहली बार जमकर बरसे बादल

वहीं स्काइमेट वेदर के उपाध्यक्ष (मौसव एवं जलवायु परिवर्तन) महेश पलावत ने कहा कि सात अक्टूबर के बाद उत्तर-पश्चिम भारत में बारिश के रुकने की उम्मीद है और मानसून की वापसी की स्थिति बनेंगी. आम तौर पर मानसून की वापसी राजस्थान से एक सितंबर तक शुरू हो जाती है.

टिप्पणियां

VIDEO: पटना में हर तरफ पानी ही पानी.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement