NDTV Khabar

इमरान खान के शपथ में जाएंगे सिद्धू, कहा- यह सम्मान की बात, कपिल-गावस्कर बोले- अभी तक नहीं मिला न्योता

पाकिस्तान आम चुनाव 2018 में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ यानी पीटीआई सहयोगियों के साथ मिलकर सरकार बनाने के लिए पूरी तरह से तैयार है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इमरान खान के शपथ में जाएंगे सिद्धू, कहा- यह सम्मान की बात, कपिल-गावस्कर बोले- अभी तक नहीं मिला न्योता

पीटीआई प्रमुख इमरान खान (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. इमरान खान का शपथ ग्रहण 11 अगस्त को.
  2. नवजोत सिंह सिद्धू ने निमंत्रण स्वीकार किया.
  3. पीएम मोदी के नाम पर अभी पाकिस्तान में विचार हो रहा है
नई दिल्ली: पाकिस्तान आम चुनाव 2018 में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी पूर्व क्रिकेटर और राजनेता इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ यानी पीटीआई सहयोगियों के साथ मिलकर सरकार बनाने के लिए पूरी तरह से तैयार है. क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने के लिए इमरान खान की शेरवानी कब से सील कर इंतजार कर रही है. मगर अब तारीख तय हो चुका है और 11 अगस्त को इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. पाकिस्तान में 11 अगस्त को इमरान ख़ान का शपथ समारोह होगा. हालांकि, इससे पहले सबकी नजर इस बात पर है कि इमरान खान भारत से किन लोगों को अपने शपथ ग्रहण में आने का न्योता देंगे और भारत से कौन-कौन उनके न्योता को स्वीकार कर शपथ ग्रहण में शामिल होंगे, इस पर अभी संशय बना हुआ है. हालांकि, एक दो लोगों के नाम भी अब स्पष्ट होने लगे हैं. 

पाकिस्तान में इमरान खान की सुरक्षा के लिए सतर्कता, राष्ट्रपति भवन में शपथ लेंगे

इमरान खान ने भारत के पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर, कपिल देव, नवजोत सिंह सिद्धू और अभिनेता आमिर ख़ान को न्योता दिया है. इन सबमें से पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि उन्होंने इमरान खान के प्रधानमंत्री पद के शपथ ग्रहण समारोह के लिए उनके निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है. सिद्धू ने बुधवार को एक बयान में कहा कि यह एक सम्मान है और निमंत्रण को वह स्वीकार करते हैं. उन्होंने कहा कि इमरान खान पर भरोसा किया जा सकता है. खिलाड़ी संपर्क बनाते हैं और रुकावटों को हटाते हैं और लोगों जोड़ते हैं.

हालांकि, सुनील गावस्कर और कपिल देव ने स्पष्ट कर दिया है कि इमरान खान की ओर से उन्हें अभी तक कोई न्योता नहीं मिला है. 

इमरान खान के शपथ समारोह में शामिल होने के लिए आमिर, कपिल देव और सुनील गावस्कर को न्योता

वहीं, दूसरी तरफ पाकिस्तान के संसदीय चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के एक शीर्ष नेता ने कहा कि पार्टी ने विदेश कार्यालय से पूछा है कि क्या भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई अन्य देशों के राष्ट्राध्यक्षों को इमरान खान के शपथ-ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया जा सकता है?

इमरान (65) की अगुवाई वाली पीटीआई 25 जुलाई को पाकिस्तानी संसद के निचले सदन नेशनल असेंबली के लिए हुए चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है और वह अपनी सहयोगी पार्टियों और निर्दलीय सांसदों के समर्थन से सरकार बना सकती है. पीटीआई के प्रवक्ता फवाद चौधरी ने कहा कि पार्टी बॉलीवुड स्टार आमिर खान और क्रिकेटरों कपिल देव एवं सुनील गावस्कर को शपथ-ग्रहण समारोह के लिए पहले ही आमंत्रित कर चुकी है. 

जब इमरान खान के सामने अमिताभ बच्चन ने लुटाए नोट, सूफी महफिल में इस अंदाज में दिखे दोनों सुपरस्टार..

डॉन न्यूज टीवी ने सूत्रों के हवाले से कहा कि पीटीआई के वरिष्ठ नेताओं - शिरीन मजारी और शफकत महमूद - ने विदेश सचिव तहमीना जनजूआ से मुलाकात की और जानना चाहा कि शपथ-ग्रहण समारोह में काफी कम दिन बचे होने के मद्देनजर किन विदेशी नेताओं को इस कार्यक्रम में बुलाने की गुंजाइश है. सूत्रों ने बताया कि पीटीआई के नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (दक्षेस) के सदस्य देशों और चीन एवं तुर्की के शासन प्रमुखों को शपथ-ग्रहण समारोह में बुलाने की अपनी इच्छा विदेश कार्यालय को बताई और इस पर उसके सुझाव मांगे. चैनल ने सूत्रों के हवाले से कहा कि विदेश कार्यालय के अधिकारियों ने कहा कि विदेशी नेताओं को शपथ-ग्रहण समारोह में बुलाना एक संवेदनशील मुद्दा है और सारे पहलुओं पर विचार करने की जरूरत है. दि डॉन ने कहा, ‘‘विदेश कार्यालय की शुरुआती दलीलों से लगा कि विदेश कार्यालय मानता है कि यदि भारतीय प्रधानमंत्री ने न्योता स्वीकार नहीं किया तो पाकिस्तान को बड़ी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ेगा.’    

इमरान खान की पार्टी PTI ने सरकार बनाने के लिए इस दल से मांगा समर्थन

पीटीआई प्रवक्ता चौधरी ने कहा कि पार्टी विदेश कार्यालय के जवाब का इंतजार कर रही है. पीएम मोदी ने सोमवार को इमरान को फोन करके आम चुनावों में उनकी पार्टी की जीत की बधाई दी थी और उम्मीद जताई थी कि पाकिस्तान और भारत द्विपक्षीय संबंधों में एक नया अध्याय शुरू करने के लिए काम करेंगे. इमरान ने शुभकामनाएं देने के लिए मोदी का शुक्रिया अदा किया और इस बात पर जोर दिया कि बातचीत के जरिए विवाद सुलझाए जाने चाहिए. 

इमरान खान की जीत पर पीएम मोदी ने दी बधाई, कहा- पाकिस्‍तान में मजबूत होंगी लोकतंत्र की जड़ें

टिप्पणियां
बता दें कि मई 2014 में जब नरेंद्र मोदी ने भारतीय प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी, उस वक्त उन्होंने तत्कालीन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को आमंत्रित किया था और शरीफ नई दिल्ली गए भी थे. इसके बाद, दिसंबर 2015 में मोदी शरीफ के जन्मदिन पर शुभकामनाएं देने के लिए अचानक कुछ देर के लिए लाहौर पहुंचे थे. हाल के वर्षों में भारत और पाकिस्तान के संबंध तनावपूर्ण हो गए हैं और कोई द्विपक्षीय वार्ता नहीं हो रही.

VIDEO: इमरान खान पाकिस्तान के नए कप्तान


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement