मध्यप्रदेश: CAB के विरोध में भोपाल में बुद्धिजीवियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में मध्यप्रदेश लोकतांत्रिक अधिकार मंच के बैनर तले बुद्धिजीवियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भोपाल में बुधवारा चौराहे पर प्रदर्शन किया.

मध्यप्रदेश: CAB के विरोध में भोपाल में बुद्धिजीवियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

CAB बुधवार को राज्यसभा में पास हो गया था

भोपाल:

नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में मध्यप्रदेश लोकतांत्रिक अधिकार मंच के बैनर तले बुद्धिजीवियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भोपाल में बुधवारा चौराहे पर प्रदर्शन किया. इसी मंच से भोपाल मध्य के विधायक आरिफ मसूद ने कहा कि अगर राज्य सरकार एनआरसी लागू करेगी तो वे विधानसभा के सदस्य नहीं रहेंगे.

उन्होंने कहा कि जंगे आजादी में जिन्होंने शहादत दी थी उनके सपनों को मोदी-शाह ने तहस नहस कर दिया. मैं सरकार से कहूंगा कि जिस तरह ममता बनर्जी ने साहस दिखाया है, वैसा हमारी सरकार दिखाए और उसे रिजेक्ट करे. अगर सरकार एनआरसी को मानेगी तो मैं विधानसभा का सदस्य नहीं रहूंगा.

CAB बना कानून: पूर्वोत्तर में हिंसक प्रदर्शन जारी, थम नहीं रहा विरोध, पढ़ें- अबतक की 10 बड़ी बातें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मसूद ने नागरिकता संशोधन बिल का भी विरोध किया. उन्होंने कहा कि लोगों को इसके खिलाफ बड़ा आंदोलन खड़ा करना चाहिए. मध्यप्रदेश विधानसभा में 115 विधायकों के साथ अपने दम पर कांग्रेस बहुमत के आंकड़े से अभी भी एक कदम पीछे है. 230 सदस्यों वाली विधानसभा में 4 निर्दलियों, 2 बसपा और एक सपा विधायक के समर्थन के साथ उसे 121 विधायकों का समर्थन हासिल है. बीजेपी के पास 108 विधायक हैं.

VIDEO: सिटी सेंटर: नागरिकता बिल के विरोध में प्रदर्शन