NDTV Khabar

तमिलनाडु के सरकारी अस्पताल में गर्भवती महिला को चढ़ा दिया गया HIV संक्रमित खून

तमिलनाडु के एक सरकारी अस्पताल में 24-वर्षीय गर्भवती महिला को HIV संक्रमित खून चढ़ा दिए जाने का मामला सामने आया है.

466 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
तमिलनाडु के सरकारी अस्पताल में गर्भवती महिला को चढ़ा दिया गया HIV संक्रमित खून

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. तमिलनाडु में सामने आया प्रशासनिक लापरवाही.
  2. गर्भवती महिला को अस्पताल ने एचआईवी संक्रमित खून चढ़ाया.
  3. 3 दिसंबर का है मामला.
तमिलनाडु:

तमिलनाडु के एक सरकारी अस्पताल में 24-वर्षीय गर्भवती महिला को HIV संक्रमित खून चढ़ा दिए जाने का मामला सामने आया है. विरुधूनगर जिले के अस्पताल में ब्लड ट्रांसफ्यूज़न के दौरान हुए इस हादसे के बाद तीन लैब टेक्नीशियनों को पिछले दो साल में कथित रूप से लापरवाही करने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है.

HIV संक्रमित महिला ने झील में कूदकर दी जान तो गांववालों ने पाइप लगाकर खाली की झील, कहा- भरेंगे ताजा पानी

इस गर्भवती महिला को HIV-संक्रमित युवक से लिया गया खून 3 दिसंबर को चढ़ाया गया था. युवक को दो साल पहले एक सरकारी लैब द्वारा HIV तथा हेपाटाइटिस-बी पॉज़िटिव पाया गया था, जब उसने रक्तदान किया था. बहरहाल, उसे टेस्ट के नतीजों की जानकारी नहीं दी गई, और उसने पिछले महीने फिर सरकारी ब्लड बैंक के लिए रक्तदान किया. अधिकारियों के अनुसार, जब तक खून में HIV संक्रमण का पता चल पाता, उसका खून गर्भवती महिला को चढ़ाया जा चुका था.

HIV पॉजिटिव होने पर महिला कर्मचारी को कंपनी ने नौकरी से निकाला, 3 साल की लड़ाई के बाद मिला न्याय


जब महिला को HIV संक्रमित पाया गया, तो उसका एन्टी-रेट्रोवायरल ट्रीटमेंट शुरू किया गया. अधिकारियों के अनुसार, गर्भ में पल रहा शिशु भी HIV संक्रमित होगा या नहीं, यह उसके जन्म के बाद ही जाना जा सकेगा.

आमतौर पर HIV का वायरस संभोग, संक्रमित रक्त के ज़रिये अथवा संक्रमित मां से गर्भ में पल रहे शिशु तक फैलता है. इसके अतिरिक्त संक्रमित महिला से स्तनपान के ज़रिये भी यह फैल सकता है.

विश्व एड्स दिवस 2018: जब एक भारतीय यौनकर्मी की दास्तां सुन रो पड़े थे बिल गेट्स

तमिलनाडु स्वास्थ्य विभाग के उपनिदेशक डॉ आर मनोहरन ने बताया, "दो बार लापरवाही हो चुकी है... हमें संदेह है कि खून को मंज़ूरी देने से पहले टेक्नीशियन ने HIV का टेस्ट किया ही नहीं... यह हादसा है, जानबूझकर नहीं किया गया... हमने जांच के आदेश दे दिए हैं, और युवक का भी उपचार किया जा रहा है..."

टिप्पणियां

उन्होंने बताया, सरकार ने महिला तथा उसके पति के लिए वित्तीय मुआवज़ा तथा नौकरियां देने की पेशकश की है.

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़ेशन (WHO) के अनुसार, वर्ष 2017 में दुनियाभर में HIV से संक्रमित तीन करोड़ 69 लाख लोगों में से सिर्फ 59 फीसदी को ही एन्टी-रेट्रोवायरल ट्रीटमेंट दिया जा रहा था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement