NDTV Khabar

सुरक्षा के मद्देनजर महाराष्ट्र विधानसभा का बजट सत्र समय से पहले समाप्त

मुंबई में पुलिस पर दवाब कम करने के लिए पहले से निर्धारित दो मार्च के बजाय गुरुवार को ही सत्र समाप्त किया गया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सुरक्षा के मद्देनजर महाराष्ट्र विधानसभा का बजट सत्र समय से पहले समाप्त

महाराष्ट्र विधानसभा का बजट सत्र समय से पहले समाप्त हो गया. विधानमंडल में विंग कमांडर अभिनदंन वर्धमान की रिहाई के लिए प्रस्ताव पारित किया गया.

खास बातें

  1. खुफिया सूत्रों के मुताबिक मुंबई, पुणे और नागपुर आतंकियों के निशाने पर
  2. पुख्ता सुरक्षा के लिए पर्याप्त बल उपलब्ध कराने के लिए सत्र बीच में खत्म
  3. विधानमंडल में विंग कमांडर अभिनदंन वर्धमान की रिहाई के लिए प्रस्ताव पारित
मुंबई:

महाराष्ट्र विधानसभा का बजट सत्र बीच में ही समाप्त कर दिया गया. गुरुवार को अहम कामकाज के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने सत्र के समापन की घोषणा की. यह बजट सत्र दो मार्च तक चलना था. विधानमंडल में आज विंग कमांडर अभिनदंन वर्धमान (Abhinandan Varthaman) की रिहाई के लिए सदन में बहुमत से प्रस्ताव पारित किया गया.

खुफिया सूत्रों के मुताबिक मुंबई, पुणे और नागपुर आतंकियों के निशाने पर हैं. सुरक्षा पुख्ता करने के लिए पर्याप्त सुरक्षा बल मिल सके इस वजह से विधानसभा का बजट सत्र समय से पहले समाप्त करने का अहम फैसला लिया गया.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने गुरुवार को कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव के मद्देनजर राज्य विधानसभा के बजट सत्र की अवधि को कम कर दिया गया है. फडणवीस ने विधानसभा में कहा कि मुंबई में पुलिस पर दवाब कम करने के लिए पहले से निर्धारित दो मार्च के बजाय गुरुवार को ही सत्र समाप्त हो जाएगा. इससे पहले फडणवीस ने गुरुवार की सुबह सर्वदलीय बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा की थी.    


महाराष्ट्र में आतंकी साजिश का खतरा, काशीमीरा में बम फटा और रायगढ़ में आईईडी बरामद

राज्य के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने बुधवार को 2019-20 के लिए अंतरिम बजट पेश किया जिसमें अनुमानित राजस्व घाटा 19,784 करोड़ रुपये होने की बात कही गई है और कृषि ऋण माफी के लिए विशेष कोष का प्रावधान किया गया है.  

तीनों सेनाओं की प्रेस कॉन्फ्रेंस: 'हम पाकिस्तान के किसी भी दुस्साहस का जवाब देने को तैयार हैं'  

 

VIDEO : जैश के ठिकानों पर भारत का बड़ा हमला  

टिप्पणियां

विधानसभा में गुरुवार को लेखानुदान बिना किसी चर्चा के पारित कर दिया गया.
(इनपुट भाषा से भी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement