NDTV Khabar

सीजेआई की अपील के मद्देनजर जस्टिस रमना ने स्पेन में होने वाले सम्मेलन का आमंत्रण ठुकराया

मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई ने अपील की है कि जज कार्यदिवस पर किसी सम्मेलन में भाग न लें

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीजेआई की अपील के मद्देनजर जस्टिस रमना ने स्पेन में होने वाले सम्मेलन का आमंत्रण ठुकराया

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई (फाइल फोटो).

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट के एक वरिष्ठ जज ने 15 नवंबर से 18 नवंबर तक स्पेन में राष्ट्रमंडल न्यायिक शिक्षा संस्थान द्वारा आयोजित एक सम्मेलन का निमंत्रण अस्वीकार कर दिया है. न्यायमूर्ति एनवी रमना ने यह कदम उठाया.

भारत के नए मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई ने अपील की है कि जज कार्यदिवस पर किसी सम्मेलन में भाग न लें. इसी अपील पर जस्टिस रमना ने आमंत्रण अस्वीकार कर दिया. न्यायमूर्ति गोगोई ने हाल ही में न्यायाधीशों से सेमिनार में भाग लेने के लिए कार्य दिवस पर न जाने को कहा था. न्यायमूर्ति रमना सुप्रीम कोर्ट के पहले जज हैं जिन्होंने CJI की सलाह पर सहमति जताई है.

टिप्पणियां
सीजेआई जस्टिस रंजन गोगोई ने हाल ही में उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर लंबित मामलों से निपटने के लिए यह सुझाव दिए थे. न्यायमूर्ति गोगोई ने जजों से अपील की थी कि जब तक कोई आपात स्थिति न हो छुट्टी न लें.

न्यायमूर्ति गोगोई ने कहा था कि वे अदालतों में लंबित मामलों  को कम करना चाहते हैं और उन्होंने जल्द सुनवाई के लिए मेंशनिंग को भी मना कर दिया था. उन्होंने यह भी कहा था कि वह एक ऐसी प्रणाली तैयार कर रहे हैं जिसमें याचिका दायर किए जाने के बाद दो दिनों के भीतर सूचीबद्ध किया जाएगा. जस्टिस गोगोई 13 महीने तक CJI रहेंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement