मायावती के भाई पर आयकर विभाग का शिकंजा, 400 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त

मायावती ने हालही अपने भाई आनंद कुमार (Anand Kumar) को बसपा का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया था, वहीं भतीजे आकाश आनंद (Akash Anand) को नेशनल कॉर्डिनेटर की जिम्मेदारी दी थी.

नई दिल्ली:

आयकर विभाग ने बसपा प्रमुख मायावती के भाई और भाभी का नोएडा स्थित 400 करोड़ रुपए कीमत का ‘बेनामी' प्लाट जब्त किया. आधिकारिक आदेश के अनुसार आनंद कुमार और उनकी पत्नी विचित्र लता के ‘लाभकारी मालिकाना हक' वाले सात एकड़ के भूखंड को जब्त करने का अस्थाई आदेश विभाग की दिल्ली स्थित बेनामी निषेध इकाई (बीपीयू) ने 16 जुलाई को जारी किया था. मायावती ने हाल ही में कुमार को बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त किया है.

आदेश की प्रति के अनुसार बेनामी संपत्ति लेनदेन निषेध अधिनियम 1988 की धारा 24(3) के तहत आदेश जारी किया गया. आदेश के अनुसार जब्त की गई सम्पत्ति को कुमार और उनकी पत्नी की ‘बेनामी' समझा जाएगा जो कि 28,328.07 वर्ग मीटर या करीब सात एकड़ में फैली है. उसने कहा कि जब्त की गई सम्पत्ति की कीमत 400 करोड़ रुपए है. कानून के अनुसार बेनामी अधिनियम का उल्लंघन करने वाले को सात साल कठोर कारावास और ''बेनामी'' सम्पत्ति के बाजार में कीमत का 25 प्रतिशत जुर्माने के तौर पर भी देना पड़ सकता है. 

विधानसभा उपचुनाव: SP को मुस्लिम वोट बैंक संजोने की चिंता, मायावती के अलग होने के बाद अखिलेश की बढ़ी चुनौती

मोदी सरकार द्वारा 2016 में निष्क्रिय पड़े कानून को लागू करने के बाद विभाग ने एक नवंबर, 2016 से नए बेनामी लेनदेन (निषेध) संशोधन अधिनियम के तहत कार्रवाई शुरू की थी. आयकर विभाग देश में बेनामी अधिनियम को लागू करने वाला नोडल विभाग है.

मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा- गंभीर नहीं हैं केंद्र और राज्य सरकारें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें, लोकसभा चुनाव के बाद बसपा (BSP) प्रमुख मायावती (Mayawati) ने पार्टी नेताओं के साथ बैठक कर कई बड़ी घोषणाएं की थी. मायावती ने अपने भाई आनंद कुमार (Anand Kumar) को बसपा का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया था, वहीं भतीजे आकाश आनंद (Akash Anand) को नेशनल कॉर्डिनेटर की जिम्मेदारी दी थी. 

उपचुनाव से ठीक पहले बड़े मुश्किल में फंस सकते हैं अखिलेश यादव और मायावती, जानें- पूरा मामला