NDTV Khabar

जयललिता के पोइस गार्डन आवास पर आयकर विभाग का छापा, कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा

आयकर विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार देर रात तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता के आवास पोइस गार्डन के कार्यालय ब्लॉक पर छापेमारी की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जयललिता के पोइस गार्डन आवास पर आयकर विभाग का छापा, कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा

जयललिता के पोइस गार्डन आवास पर आयकर विभाग का छापा

खास बातें

  1. जयललिता के पोइस गार्डन आवास पर आयकर विभाग का छापा
  2. छापे बाद कार्यकरताओं ने किया हंगामा
  3. शशिकला के सगे संबंधियों के ठिकानों पर भी पड़ा छापा
चेन्नई: आयकर विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार देर रात तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता के आवास पोइस गार्डन के कार्यालय ब्लॉक पर छापेमारी की. इस छापेमारी में पूर्व मुख्यमंत्री जलललिता की नजदीकी रही अन्नाद्रमुक नेता वी के शशिकला द्वारा प्रयुक्त कमरे के आलावा उनके व्यावसायिक ठिकानों पर भी छापेमारी की गई. वी के शशिकला के सगे-संबंधियों व उनके कारोबारी साथियों के घरों और परिसरों में आयकर विभाग के अधिकारियों ने छापेमारी की. इस छापेमारी की खबर सुनकर अन्नाद्रमुक के समर्थकों ने सुरक्षा घेरे को तोड़ने की कोशिश की, लेकिन पुलिस बल ने उनको अंदर नहीं जाने दिया.

यह भी पढ़ें: शशिकला पर कोर्ट के आदेश से पहले रात में बीच रिजॉर्ट से 'नाटकीय ढंग से' बचकर निकला एक विधायक


आयकर विभाग के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘हमने पूरे पोइस गार्डन परिसर में छापेमारी नहीं की. हमारी टीम रात नौ बजे गई और केवल पूनगुंदरन के कमरे, रिकार्ड रूम और शशिकला द्वारा प्रयुक्त अन्य कमरे में तलाशी ली गई.’ पूनगुंदरन पूर्व मुख्यमंत्री के सहयोगी के रूप कार्यरत थे. उन्होंने कहा कि इस छापेमारी में लैपटॉप, पेन ड्राइव और डेस्क टॉप को जब्त किया गया है. इस छापेमारी को अन्नाद्रमुक के नेताओं ने राजनीति से प्रेरित बताया.

shasikalaजयललिता के पोइस गार्डन आवास पर आयकर विभाग का छापा

यह भी पढ़ें: तमिलनाडु : शशिकला खेमे के विधायकों ने नकारे रिसॉर्ट में रोककर रखे जाने के आरोप

टिप्पणियां
इससे पहले भी आयकर विभाग ने वी के शशिकला और उनके सगे संबंधियों के घरों और परिसरों में छापेमारी की थी. उस छापेमारी में बरामद की गई नकदी, सोना और संपत्ति के कागजात के बारे में आयकर अधिकारी अभी कुछ भी स्पष्ट नहीं बता रहे हैं. हालांकि, सूत्रों के मुताबकि अब तक की तलाशी में 1,000 करोड़ रुपये से ज्यादा मूल्य की संत्तियां व सामान बरामद हुए हैं.

VIDEO: जेल में शशिकला को मिल रही हैं वीवीआईपी सुविधाएं​
आयकर विभाग के एक अधिकारी ने नाम गुप्त रखने की शर्त पर बताया था कि बरामद कागजात के मूल्य को लेकर हमें कोई हैरानी नहीं होगी. हम अनुभवी अधिकारी हैं और इस तरह की तलाशी में हम क्या उम्मीद करते हैं, वह हमें मालूम है. उन्होंने कहा था कि विभाग को शशिकला से जुड़े लोगों व कंपनियों की ओर से इस साल आयकर की रिटर्न दाखिल करने का इंतजार था. 
(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement