ठीक होने की बढ़ती दर साबित करती है कि COVID-19 को रोकने की केंद्र की नीति सफल : हर्षवर्धन

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने बुधवार को कहा कि भारत में कोरोना वायरस के संक्रमित लोगों के ठीक होने की बढ़ती दर और इलाजरत मरीजों की संख्या में लगातार आ रही कमी साबित करती है कि केंद्र सरकार के नेतृत्व में कोविड-19 पर रोक लगाने की रणनीति सफल है.

ठीक होने की बढ़ती दर साबित करती है कि COVID-19 को रोकने की केंद्र की नीति सफल : हर्षवर्धन

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन - फाइल फोटो

नई दिल्ली:

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने बुधवार को कहा कि भारत में कोरोना वायरस के संक्रमित लोगों के ठीक होने की बढ़ती दर और इलाजरत मरीजों की संख्या में लगातार आ रही कमी साबित करती है कि केंद्र सरकार के नेतृत्व में कोविड-19 पर रोक लगाने की रणनीति सफल है. मध्यप्रदेश के रीवा में एक सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक के डिजिटल उद्घाटन में हर्षवर्द्धन ने कहा कि जांच की क्षमता को सफल तरीके से बढ़ाया गया है और कुल जांच की संख्या के मामले में देश ने आठ करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है.


एक बयान में उनके हवाले से बताया गया, ‘‘पिछले नौ महीने से भारत संक्रमण की बीमारी से अनवरत लड़ रहा है. भारत में ठीक होने की लगातार बढ़ती दर और इलाजरत मामलों की संख्या में लगातार आ रही कमी से साबित होता है कि केंद्र के नेतृत्व में कोविड-19 पर रोक लगाने की रणनीति सफल है.'' बयान में बताया गया है, ‘‘हमने अपनी जांच क्षमता सफलतापूर्वक बढ़ाई है जो कुल जांच के लिहाज से आठ करोड़ का आंकड़ा पार कर गया है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि जनवरी में एक प्रयोगशाला थी जो अब पूरे देश में 1889 हो गयी हैं. उन्होंने कहा, ‘‘उपचार और कोविड-19 के टीका के क्षेत्र में वैज्ञानिक प्रगति पर मुझे विश्वास है और कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में जल्द ही भारत और अधिक सफलता हासिल करेगा.'' भारत में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बुधवार को 72,049 नये मामलों के साथ 67.57 लाख हो गई जबकि अभी तक 57 लाख 44 हजार 693 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. इससे ठीक होने की राष्ट्रीय औसत दर 85.02 फीसदी हो गई है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)