Independence Day : कोरोना के बीच किए गए कई बदलाव, न्योते के साथ भेजी गई यह एडवाइज़री

देश शुक्रवार को 74वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा लेकिन इस कोरोनावायरस से फैली महामारी कोविड-19 के चलते सबकुछ हमेशा की तरह भव्य नहीं रहेगा, वहीं इस बार पहले से भी ज्यादा विशेष तैयारियां की गई हैं. कोविड-19 के मद्देनजर रक्षा मंत्रालय ने स्वतंत्रता दिवस पर खास तैयारी की है

Independence Day : कोरोना के बीच किए गए कई बदलाव, न्योते के साथ भेजी गई यह एडवाइज़री

कोरोना के कहर के बीच देश मना रहा है 74वां स्वतंत्रता दिवस.

नई दिल्ली:

15th August Celebrations: देश शुक्रवार को 74वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा लेकिन इस कोरोनावायरस से फैली महामारी कोविड-19 के चलते सबकुछ हमेशा की तरह भव्य नहीं रहेगा, वहीं इस बार पहले से भी ज्यादा विशेष तैयारियां की गई हैं. कोविड-19 के मद्देनजर रक्षा मंत्रालय ने स्वतंत्रता दिवस पर खास तैयारी की है. इस बार लाल किले पर होने वाले समारोह में अधिकारियों, डिप्लोमैट, आम लोगों और मीडिया को मिलाकर 4,000 इन्विटेशन कार्ड जारी किए गए हैं. स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में वही आ सकेंगे जिनके पास इनविटेशन कार्ड है. कोविड को लेकर हर इन्विटेशन कार्ड के साथ स्पेशल एडवाइजरी जारी किया गया है. वहीं इसमें कहा गया है कि कार्यक्रम खत्म होने पर लोग धैर्य से बाहर निकलें. 

लाल किले पर क्या हैं तैयारियां?

लाल किले को अंदर बाहर लगातार सैनिटाइज़ किया जा रहा है. हर एंट्री पॉइंट के लिए खास व्यवस्था की गई है. हर एंट्री पॉइंट पर थर्मल स्क्रीनिंग होगी. मेटल डिटेक्टर के साथ अतिरिक्त डोर फ्रेम लगाया गया है. सबका मूवमेंट सुचारू रूप से चलता रहे और ज्यादा भीड़भाड़ न हो इसके लिए पैदल-पथ पर वुडेन फ्लोरिंग और कारपेट लगाया गया है. 

मेहमानों से मास्क पहनने को कहा गया है और कार्यक्रम स्थल पर पर्याप्त संख्या में मास्क रखा गया है. जहां मेहमान बैठेंगे उनके बीच दो गज की दूरी रखी गई है. जगह-जगह पर हैंड सैनिटाइज़र रखे गए हैं. चार जगहों पर मेडिकल बूथ बनाए गए हैं, जिनमें भी कोविड के लक्षण दिखाई देंगे, उन्हें वहां अटेंड किया जा सकेगा. इन मेडिकल बूथ पर एंबुलेंस भी उपलब्ध होंगे.

इस बार स्कूली बच्चों को नहीं बुलाया गया है, इस बार बस NCC कैडेट्स होंगे और ये सभी ज्ञानपथ पर बैठेंगे. गार्ड ऑफ ऑनर देने वाले सभी जवानों को सुरक्षित रखने के लिए पहले से ही क्वारंटीन में रखा गया है. इस बार भी थल सेना, वायुसेना और नौसेना के जवान गार्ड ऑफ ऑनर देंगे जिसमें करीब 22 जवान और अफसर होंगे. वहीं, राष्ट्रीय सैल्यूट में 32 जवान और अफसर होंगे. साथ में दिल्ली पुलिस के जवान भी होंगे. कोरोना की वजह से ये जवान चार लाइनों में खड़े होंगे और सोशल डिस्टेंसिंग नियमों को बनाए रखेंगे. बता दें कि लाल किले पर होने वाले कार्यक्रम में वही जवान होंगे जिन सबके कोविड टेस्ट नेगेटिव आए हैं या फिर कोरोना को हराकर आए हैं. सलामी देने वाले जवानों को एहतियातन पहले से ही क्वारन्टीन कर दिया गया है.

जानकारी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले पर झंडा फहराने के लिए सुबह करीब 7.21 बजे लालकिले के फोरग्राउंड में आएंगे. प्रधानमंत्री सुबह 7.30 बजे तिरंगा फहराएंगे. पीएम का भाषण 45 मिनट से लेकर डेढ़ घंटे का हो सकता है.

Video: कोरोना : जानिए इस बार लाल किले पर कैसे मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com