भारत-चीन के बीच 9वें दौर की बातचीत 15 घंटों तक चली, रात 2.30 बजे खत्म हुई बैठक

पूर्वी लद्दाख में चल रहे तनाव (Ladakh Standoff) को लेकर भारत और चीन के बीच कमांडर स्तर की 9वें दौर (India China 9th round Talk) की बातचीत आज सुबह लगभग 2:30 बजे खत्म हुई.

भारत-चीन के बीच 9वें दौर की बातचीत 15 घंटों तक चली, रात 2.30 बजे खत्म हुई बैठक

मोल्डो में कल सुबह शुरू होने के बाद यह बैठक 15 घंटे से ज़्यादा देर तक चली (तस्वीर-फाइल)

नई दिल्ली:

पूर्वी लद्दाख में चल रहे तनाव (Ladakh Standoff) को लेकर भारत और चीन के बीच कमांडर स्तर की 9वें दौर (India China 9th round Talk) की बातचीत आज सुबह लगभग 2:30 बजे खत्म हुई. मोल्डो में कल सुबह करीब 9.30 बजे शुरू होने के बाद यह बैठक 15 घंटे से ज़्यादा देर तक चली. इस बैठक में भारत की ओर से सेना के 14 कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन और चीन की तरफ से दक्षिणी शिनजियांग मिलिट्री रीजन कमांडर मेजर जनरल लियू लिन ने हिस्सा लिया.

Read Also: भारत सैनिकों की संख्या में कमी नहीं करेगा, जब तक चीन यह प्रक्रिया शुरू नहीं करता: राजनाथ सिंह

इससे पहले, छह नवंबर को हुई आठवें दौर की वार्ता में दोनों पक्षों ने टकराव वाले खास स्थानों से सैनिकों को पीछे हटाने पर व्यापक चर्चा की थी. भारत लगातार यह कहता आ रहा है कि पर्वतीय क्षेत्र में टकराव वाले सभी स्थानों से सैनिकों को वापस बुलाने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने और तनाव को कम करने की जिम्मेदारी चीन की है. 

Read Also: अरुणाचल में गांव बसाने की खबरों पर चीन का आया बयान, कहा- ‘अपने खुद के क्षेत्र में...'


बताते चलें कि पूर्वी लद्दाख में विभिन्न पवर्तीय क्षेत्रों में भारतीय थल सेना के कम से कम 50,000 जवान युद्ध की तैयारियों के साथ अभी तैनात हैं. दरअसल, गतिरोध के हल के लिए दोनों देशों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन अब कर कोई ठोस नतीजा नहीं निकला है. अधिकारियों के अनुसार चीन ने भी इतनी ही संख्या में अपने सैनिकों को तैनात किया है. 
पिछले महीने, भारत और चीन ने भारत-चीन सीमा मामलों पर WMCC ढांचा के तहत एक और दौर की राजनयिक वार्ता की थी, लेकिन इसमें भी कोई नतीजा नहीं निकला था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: अरुणाचल में एलएसी के निकट चीन ने बसाए गांव