NDTV Khabar

भारत ने फिर स्पष्ट किया आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि कुछ बातें नियमित आधार पर चलती रहती है और इसमें डीजीएमओ समेत अन्य स्तर की चर्चा शामिल है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत ने फिर स्पष्ट किया आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

पाकिस्तान के साथ संबंध सुधारने की पहल से जुड़ी खबरों के बीच भारत ने गुरुवार को एक बार फिर स्पष्ट किया कि आतंक और बातचीत साथ साथ नहीं चल सकते. दोनों देशों के बीच संबंध सुधारने की पहल के बारे में मीडिया में आई खबरों के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि कुछ बातें नियमित आधार पर चलती रहती है और इसमें डीजीएमओ समेत अन्य स्तर की चर्चा शामिल है. उन्होंने कहा कि इस बारे में पाकिस्तान के आतंकवाद और आतंकी आधारभूत ढांचे को समर्थन देने के बारे में बार बार कहा जा चुका है. यह भी कहा जा चुका है कि आतंकवाद और बातचीत साथ साथ नहीं चल सकते. कुमार ने कहा, ‘इस रूख में कोई बदलाव नहीं आया है.’

टिप्पणियां

VIDEO : पाक-चीन सरहद पर भारतीय वायुसेना का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास​


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement