बेहद तेज़ी से बढ़ रही है COVID-19 के मरीज़ों की तादाद, अब सिर्फ तीन दिन में पार हो रहे हैं एक लाख केस

चिंताजनक बात यह है कि अगर यही रफ्तार रही, तो 12 से 13 लाख का आंकड़ा पार करने में सिर्फ दो दिन लगेंगे, और हम शनिवार (25 जुलाई) सुबह 13 लाख का आंकड़ा पार कर चुके होंगे.

बेहद तेज़ी से बढ़ रही है COVID-19 के मरीज़ों की तादाद, अब सिर्फ तीन दिन में पार हो रहे हैं एक लाख केस

23 जुलाई तक देश में 12 लाख के पार पहुंची कोरोना मरीजों की संख्या. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • देश में 12 लाख के पार कोरोना मामलों की संख्या
  • हर तीन दिन में बढ़ रहे एक लाख केस
  • मरने वालों का आंकड़ा 30 हज़ार के करीब पहुंचा
नई दिल्ली:

India Coronavirus Updates: भारत में कोरोनावायरस से हालत हर रोज़ पहले से बदतर होती जा रही है. देश में गुरुवार तक सामने आए कुल कोरोना मरीज़ों (Corona Patients) की संख्या 12 लाख के पार पहुंच चुकी है. पहले एक लाख COVID-19 केस (Covid-19 Cases) सामने आने में 110 दिन लगे थे, और उसके बाद दो लाख मामले तक पहुंचने में हमारे मुल्क को 15 दिन का समय लगा था. इसके बाद हर एक लाख मामलों में लगने वाला समय घटता चला गया, और स्थिति गंभीर से गंभीरतर होती चली गई. तीन लाख केस तक पहुंचने में हमें 10 दिन लगे, चार लाख तक आठ दिन, पांच लाख तक छह, छह लाख तक पांच, सात लाख केस तक पांच, और आठ लाख मामलों तक पहुंचने में चार दिन लगे थे. इसके बाद प्रत्येक एक लाख मामलों के लिए देश को सिर्फ तीन दिन का वक्त लगा.

चिंताजनक बात यह है कि अगर यही रफ्तार रही, तो 12 से 13 लाख का आंकड़ा पार करने में सिर्फ दो दिन लगेंगे, और हम शनिवार (25 जुलाई) सुबह 13 लाख का आंकड़ा पार कर चुके होंगे.

गुरुवार यानी 23 जुलाई को पिछले 24 घंटों में अब तक के सबसे ज्यादा नए मरीज़ सामने आए हैं, वहीं अब तक की सबसे ज्यादा मौतें भी दर्ज की गई हैं.  23 जुलाई की सुबह तक देश में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 45,720 नए मामले दर्ज किए गए हैं, वहीं 1129 लोगों की मौत हुई है. देश मे कोरोना के अब तक कुल पॉजिटिव मामले 12,38,635 हो चुके हैं. वहीं कुल 29,861 लोगों की मौत हुई है यानी मौत का आंकड़ा भी 30 हजार को छू रहा है. 

इस बीमरी से देश में ठीक होने वाले लोगों की संख्या 7,82,607 है. फिलहाल रिकवरी रेट 63.18% चल रहा है. वहीं, देश का पॉजिटिविटी रेट 13.03% पर आया है. 

क्या कहते हैं आंकड़े?

एक के बाद एक देश में जैसे मरीज़ों की संख्या लाख में बढ़ रही है, उससे हालात बहुत ही भयावह लग रहे हैं. एक बार आंकड़ों पर नज़र डालते हैं कि आखिर केस बढ़ने की दर कैसे बढ़ी है और पॉजिटिविटी रेट में कितनी तेजी से फर्क आया है.

- भारत ने 175 दिनों में 12 लाख संक्रमण के केस के पार पहुंचा. 19 मई को देश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 1 लाख हुई थी. यहां तक पहुंचने में देश को 110 दिन लगे थे.

- 19 मई को देश में 1,01139 मामले थे. पॉजिटिविटी रेट: 4.89%.

- 3 जून: 2,07,615 मामले, पॉजिटिविटी रेट : 6.49%

- 13 जून: 3,08,993, पॉजिटिविटी रेट : 7.97%

- 21 जून : 4,10, 461, पॉजिटिविटी रेट : 8.08%

- 27 जून : 5,08,953, पॉजिटिविटी रेट : 8.41%

- 02 जुलाई : 6,04641, पॉजिटिविटी रेट : 8.34%

- 07 जुलाई : 7,19,665, पॉजिटिविटी रेट : 9.21%

- 11 जुलाई : 8,20,916, पॉजिटिविटी रेट : 9.59%

- 14 जुलाई : 9,06,752, पॉजिटिविटी रेट : 9.95%

- 17 जुलाई : 10,03832, पॉजिटिविटी रेट: 10.49%

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

- 20 जुलाई: 11,18043, पॉजिटिविटी रेट : 15.79%

- 23 जुलाई : 12,38,635, पॉजिटिविटी रेट : 13.03%

कोरोनावायरस, यानी COVID-19 के पहले 1,00,000 पुष्ट मामले सामने आने में 110 दिन लगे थे, लेकिन अब सिर्फ तीन दिन लग रहे हैं... भारत को 12 लाख पुष्ट मामलों का आंकड़ा पार करने में कुल 175 दिन लगे हैं...
तिथिकुल मामलेसमय लगा
19 मई1,01,139110 दिन
3 जून2,07,61515 दिन
13 जून3,08,99310 दिन
21 जून4,10,4618 दिन
27 जून5,08,9536 दिन
2 जुलाई6,04,6415 दिन
7 जुलाई7,19,6655 दिन
11 जुलाई8,20,9164 दिन
14 जुलाई9,06,7523 दिन
17 जुलाई10,03,8323 दिन
20 जुलाई11,18,0433 दिन
23 जुलाई12,38,6353 दिन