भारत ने ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक को-ऑपरेशन को लताड़ा

संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दे पर टिप्पणी को लेकर भारत ने ओआईसी पर किया पलटवार

भारत ने ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक को-ऑपरेशन को लताड़ा

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  • कहा- ओआईसी को अंदरूनी मामले पर टिप्पणी करने का कोई हक नहीं
  • भारत ने कहा कि जम्मू-कश्मीर उसका अभिन्न एवं अविभाज्य हिस्सा
  • ओआईसी ने जम्मू-कश्मीर के बारे में गुमराह करने वाली टिप्पणी की
नई दिल्ली:

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दा उठाने पर शुक्रवार को ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक को-ऑपरेशन (ओआईसी) पर यह कहते हुए पलटवार किया कि इस संगठन को उसके अंदरूनी मामले पर टिप्पणी करने का कोई हक नहीं है.

ओआईसी की ओर से पाकिस्तान द्वारा संयुक्त राष्ट्र में दिए गए बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए भारत ने कहा कि जम्मू-कश्मीर उसका अभिन्न एवं अविभाज्य हिस्सा है. नई दिल्ली ने इस संगठन को भविष्य में ऐसे बयान देने से दूर रहने की सलाह दी.

यह भी पढ़ें : आतंकी हाफिज सईद के खिलाफ कार्रवाई के लिए संयुक्त राष्ट्र से किया अनुरोध

जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन में प्रथम सचिव सुमित सेठ ने कहा, ‘‘भारत बड़े अफसोस के साथ कहता है कि ओआईसी के बयान में भारतीय राज्य जम्मू-कश्मीर के बारे में तथ्यात्मक रूप से अशुद्ध एवं गुमराह करने वाली टिप्पणी है, जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न एवं अविभाज्य हिस्सा है. ’’ उन्होंने ओआईसी की ओर पाकिस्तान द्वारा दिए गए बयान के जवाब में भारत के जवाब देने के अधिकार के तहत यह बयान दिया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : पाक को कड़ा जवाब

ओआईसी की ओर से पाकिस्तान ने कश्मीर मुद्दे पर भारत की आलोचना की थी. ओआईसी 57 देशों का संगठन है जो दुनियाभर के मुसलमानों का सामूहिक स्वर होने का दावा करता है
(इनपुट भाषा से)