World Talent Ranking 2018 में भारत दो पायदान नीचे खिसका, स्विट्जरलैंड टॉप पर कायम

प्रतिभाओं को आकर्षित, विकसित और उन्हें अपने यहां बनाए रखने के मामले में भारत की वैश्विक रैंकिंग में इस बार गिरावट देखने को मिली है

World Talent Ranking 2018 में भारत दो पायदान नीचे खिसका, स्विट्जरलैंड टॉप पर कायम

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

प्रतिभाओं को आकर्षित, विकसित और उन्हें अपने यहां बनाए रखने के मामले में भारत की वैश्विक रैंकिंग  (world talent ranking 2018, IMD World Talent Ranking 2018) में इस बार गिरावट देखने को मिली है. बिजनेस स्कूल ऑफ स्विट्जरलैंड की वार्षिक वैश्विक प्रतिभा रैंकिंग में भारत दो पायदान फिसलकर 53वें स्थान पर आ गया है. हालांकि, इस मामले में स्विट्जरलैंड अब भी पहले स्थान पर बना हुआ है. स्विट्जरलैंड के प्रमुख बिजनेस स्कूल आईएमडी ने यह सूची जारी की है. एशिया में सिंगापुर सूची में सबसे ऊपर है. वैश्विक सूची में वह 13वें स्थान पर है. इस सूची में प्रतिभाओं के विकास, उन्हें आकर्षित करने और अपने साथ जोड़े रखने के आधार पर 63 देशों को रैंकिंग दी गई है.

स्टूडेंट्स के लिए दुनिया की 100 सबसे बेस्ट सिटी: भारत की रैंकिंग 80 से नीचे

चीन इस सूची में निचले 39वें स्थान पर है. कुशल विदेशी श्रमिकों को आकर्षित करने में आने वाली मुश्किलों तथा शिक्षा में सार्वजनिक खर्च अन्य विकसित अर्थव्यवस्थाओं के औसत की तुलना में कम रहने की वजह से चीन सूची में निचले स्थान पर है. जहां तक भारत की बात है वह इस सूची में 2017 के 51वें स्थान से फिसलकर 53वें स्थान पर आ गया है. भारत का प्रदर्शन प्रतिभा पूल की गुणवत्ता के मामले में औसत से बेहतर है. इसमें भारत 30वें स्थान पर है. वहीं दूसरी ओर अपनी शैक्षणिक प्रणाली की गुणवत्ता तथा सार्वजनिक शिक्षा के क्षेत्र में निवेश की कमी के चलते निवेश और विकास के मामले में भारत 63वें स्थान पर है. 

वर्ल्ड रैंकिंग 2018 में भारतीय यूनिवर्सिटीज का प्रदर्शन हुआ कमजोर

Newsbeep

यह सूची तीन कारकों पर आधारित है: निवेश एवं विकास, अपील और तैयारी. स्विट्जरलैंड लगातार पांचवें साल सूची में शीर्ष पर रहा है. डेनमार्क दूसरे, नॉर्वे तीसरे, आस्ट्रिया चौथे और नीदरलैंड पांचवें स्थान पर है. इसके बाद कनाडा छठे स्थान पर है. शीर्ष दस में कनाडा एकमात्र गैर यूरोपीय देश है. फिनलैंड सातवें, स्वीडन आठवें, लग्जमबर्ग नौवें तथा जर्मनी दसवें स्थान पर है. निचले स्थान वाले देशों में स्लोवाक गणराज्य 59वें, कोलंबिया 60वें, मेक्सिको 61वें, मंगोलिया 62वें और वेनेजुएला 63वें स्थान पर है. ब्रिक्स देशों में ब्राजील 58वें, दक्षिण अफ्रीका 50वें और रूस 46वें स्थान पर है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: अंतरराष्ट्रीय रेटिंग एजेंसी मूडीज़ ने 13 साल बाद भारत की रेटिंग में किया सुधार