NDTV Khabar

दुनियाभर में खुले नए बैंक खातों में से 55 प्रतिशत भारत में 

वैश्विक स्तर पर 2014-17 के दौरान 51.4 करोड़ बैंक खाते खोले गए. इनमें से 55 प्रतिशत बैंक खाते भारत में खुले हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दुनियाभर में खुले नए बैंक खातों में से 55 प्रतिशत भारत में 

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: भारत के वित्तीय समावेशी प्रयासों को अब विश्व बैंक से भी मान्यता मिल रही है. वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार ने शुक्रवार को कहा कि विश्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार दुनिया भर में खोले गए नए बैंक खातों में से 55 प्रतिशत भारत में खोले गए हैं. उन्होंने ट्वीट किया कि विश्व बैंक की वैश्विक फिनडेक्स रिपोर्ट में भारत के वित्तीय समावेश के प्रयासों को मान्यता दी गई है. वैश्विक स्तर पर 2014-17 के दौरान 51.4 करोड़ बैंक खाते खोले गए. इनमें से 55 प्रतिशत बैंक खाते भारत में खुले हैं. विश्व बैंक की कल जारी रिपोर्ट में जन धन योजना की सफलता का हवाला दिया गया है.

यह भी पढ़ें: बैंक अधिकारियों ने कहा, नकदी की आपूर्ति सुधरी, संकट कायम

सरकारी आंकड़ों के अनुसार मार्च , 2018 तक जनधन खातों की संख्या बढ़कर 31.44 करोड़ हो गई , जो एक साल पहले 28.17 करोड़ थी. विश्व बैंक की इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत में वयस्क बैंक खाता धारकों की संख्या 2017 में बढ़कर 80 प्रतिशत हो गई. इससे पहले 2014 में यह 53 प्रतिशत और 2011 में 35 प्रतिशत थी.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: सरकार की इस योजना का लाभ लेकर युवा बन सकते हैं Businessman

इसमें कहा गया है कि सरकार के प्रयासों से महिलाओं के बैंक खातों में अच्छी वृद्धि हुई और पुरुषों के मुकाबले महिला खाताधारकों की संख्या का अंतर कम हुआ है. वर्ष 2014 में यह अंतर जहां 20 प्रतिशत था वहीं 2017 में यह घटकर छह प्रतिशत रह गया. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement