सऊदी अरब के बैंक नोट में जम्‍मू-कश्‍मीर नहीं है भारत का हिस्‍सा, विदेश मंत्रालय ने जताया कड़ा विरोध

नोट में भारत का जो नक्शा दिखाया गया है उसमें जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir)को आज़ाद इलाके के तौर पर दिखाया गया है.

सऊदी अरब के बैंक नोट में जम्‍मू-कश्‍मीर नहीं है भारत का हिस्‍सा, विदेश मंत्रालय ने जताया कड़ा विरोध

सऊदी अरब मोनेटरी अथॉरिटी की ओर से यह नोट जारी किए गए हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • 24 अक्‍टूबर को जारी किए गए हैं ये बैंक नोट
  • भारत ने कहा है, तुरंत इसे सही किया जाए
  • नोट में गिलगिट-बालटिस्तान नहीं है पाकिस्‍तान के क्षेत्र में
नई दिल्ली:

सऊदी अरब (Saudi Arabia) की मोनेटरी अथॉरिटी ने देश के जी20 के 21-22 नवंबर को होने वाले सम्मेलन (G20 Summit) की अध्यक्षता संभालने के उपलक्ष्य में 24 अक्टूबर को बैंक नोट जारी किए हैं, लेकिन इन नोट में भारत का जो नक्शा दिखाया गया है उसमें जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir)को आज़ाद इलाके के तौर पर दिखाया गया है. इस बारे में जब विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव से सवाल पूछा गया तो उन्होंने बताया कि इस बारे में भारत की गंभीर चिंता भारत में सउदी अरब के राजदूत और रियाद के ज़रिए बता दी गई है.

भारत ने पाकिस्तान के नए नक्शे पर दी तीखी प्रतिक्रिया, 'राजनीतिक मूर्खता' बताया

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा, उनसे कहा गया है कि भारत की क्षेत्रीय सीमाओं को इस बैंक नोट में बेहद गलत तरीके से दिखाया गया है वो भी सउदी के कानूनी बैंक नोट पर,  उन्हें कहा गया है कि तुरंत इसे सही किया जाए. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने एक बार फिर दोहराया कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत के अभिन्न अंग हैं. वैसे इस नोट से पाकिस्तान भी परेशान है क्योंकि इस पर गिलगिट-बालटिस्तान और पीओके को पाक का क्षेत्र नहीं दिखाया गया है. 

Newsbeep

पाकिस्‍तान की तरफ से 'गलत नक्‍शा' लगाने पर भारत ने जताया विरोध

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com