NDTV Khabar

बीएसएफ द्वारा हिरासत में लिए लड़के के माता-पिता को वीजा देने के लिए भारत तैयार : सुषमा स्वराज

बीएसएफ ने इस साल मई महीने में इस लड़के को हिरासत में लिया था और उसे फरीदकोट के एक निगरानी घर में रखा गया था.

7 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीएसएफ द्वारा हिरासत में लिए लड़के के माता-पिता को वीजा देने के लिए भारत तैयार : सुषमा स्वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा ,भारत, पाकिस्तान द्वारा लड़के की नागरिकता की पुष्टि के इंतजार में है.
  2. मई 2017 में बीएसएफ ने उसे हिरासत में लिया था.
  3. मेरी जानकारी यह कहती है कि मास्टर हम्माद हसन साल 2013 से लापता है.
नई दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि भारत उस 12 साल के बच्चे के माता-पिता को वीजा देने के लिए तैयार है जिसके बारे में माना जा रहा है कि वह पाकिस्तान का है. बीएसएफ ने इस साल मई महीने में इस लड़के को हिरासत में लिया था और उसे फरीदकोट के एक निगरानी घर में रखा गया था. ट्वीट की एक श्रृंखला में मंत्री ने कहा कि भारत, पाकिस्तान द्वारा लड़के की नागरिकता की पुष्टि के इंतजार में है.

पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार की एक प्रतिक्रिया ने सुषमा का ध्यान खींचा था. तरार ने कहा था कि पाकिस्तान के सियालकोट के पासुर क्षेत्र से हम्माद हसन कुछ महीने पहले लापता हुआ है.

यह भी पढ़ें : पाकिस्तानी युवक ने सुषमा स्वराज से मांगी मदद, कहा, 'अल्लाह के बाद आप ही हमारी आखिरी उम्मीद'

सुषमा ने कहा, 'फरीदकोट के निगरानी घर में करीब 12 साल का एक बच्चा है. मई 2017 में बीएसएफ ने उसे हिरासत में लिया था.

VIDEO : सऊदी अरब में कैद था त्रिपुरा का गोपालदास, लौटा देश​


हम पाकिस्तान की तरफ से उसकी नागरिकता पुष्टि करने का इंतजार कर रहे हैं.' उन्होंने आगे कहा, 'मेरी जानकारी यह कहती है कि मास्टर हम्माद हसन साल 2013 से लापता है और नाबालिग हमारे पास साल 2017 से है.' मंत्री ने कहा कि अगर लड़के के माता-पिता को लगता है कि वह उनका बेटा है तो भारत उन्हें वीजा देने के लिए तैयार है और वह भारत आकर बच्चे से मिल सकते हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement