NDTV Khabar

आतंकवाद से मुकाबले पर भारत, रूस ने दोहरायी प्रतिबद्धता

गृहमंत्रालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और रसियन फेडेरेशन सिक्युरिटी काउंसिल के सेक्रेटरी निकोलई पेट्रशेव के बीच मॉस्को में सोमवार को हुई बैठक में इस मुद्दे को उठाया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आतंकवाद से मुकाबले पर भारत, रूस ने दोहरायी प्रतिबद्धता

गृहमंत्री राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारत और रूस ने मंगलवार को सुरक्षा और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में द्विपक्षीय सहयोग को मजबूती प्रदान करने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराई. गृहमंत्रालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और रसियन फेडेरेशन सिक्युरिटी काउंसिल के सेक्रेटरी निकोलई पेट्रशेव के बीच मॉस्को में सोमवार को हुई बैठक में इस मुद्दे को उठाया गया. दोनों नेताओं ने अक्टूबर 2016 में हस्ताक्षर किए गए सूचना सुरक्षा समझौते के लागू होने की समीक्षा भी की.  दोनों देशों की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषदों के बीच जारी सहयोग व आपस में नियमित दौरे का स्वागत किया.

राजनाथ सिंह 27 से 29 नवंबर तक तीन दिन के रूस के दौरे पर हैं. उन्होंने आपदा प्रबंधन में सहयोग के मसले पर रूस के आपात स्थिति मंत्री व्लादिमीर पुश्कोव के साथ भी बातचीत की और 2010 में किए गए आपदा प्रबंधन समझौते की प्रगति की भी समीक्षा की.

यह भी पढ़ें : इस्‍लाम में यकीन करने वाला कोई भी हिन्दुस्तानी मुसलमान आईएस को देश में जड़ नहीं जमाने देगा : राजनाथ

बयान में कहा गया है कि दोनों पक्षों में सहमति बनी कि रूस भारत में नेशनल क्राइसिस मैनेजमेंट सेंटर स्थापित करने में सहयोग करेगा. 

टिप्पणियां
VIDEO : 'रन फॉर युनिटी' से पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह का भाषण​
दोनों नेताओं ने बाद में आपदा प्रबंधन में सहयोग के लिए संयुक्त कार्यान्वयन योजना 2018-19 पर हस्ताक्षर किए. बयान के मुताबिक, राजनाथ सिंह मंगलवार को रूस के फेडेरल सिक्योरिटी सर्विस का दौरा करेंगे और उसके डायरेक्टर एलेक्जेंडर बोर्टनीकोव के साथ बातचीत करेंगे.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement