NDTV Khabar

India vs Australia 2nd T20: मैक्सवेल की एक तरफा पारी से आस्ट्रेलिया ने 2-0 से जीती टी20 सीरीज

मैक्सवेल ने टी-20 करियर का तीसरा शतक लगाया. बता दें कि कोहली की कप्तानी में भारत ने सभी प्रारूपों में पिछली 15 श्रृंखलाओं में से 14 में जीत दर्ज की थी जबकि एक ड्रा रही थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
India vs Australia 2nd T20: मैक्सवेल की एक तरफा पारी से आस्ट्रेलिया ने 2-0 से जीती टी20 सीरीज

ऑस्ट्रेलिया ने भारत को टी20 सीरीज में हराया

नई दिल्ली:

ग्लेन मैक्सवेल के तूफानी शतक के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने 2 मैचों की टी-20 सीरीज पर 2-0 से कब्जा जमा लिया. भारत (Ind Vs Aus) से मिले 191 रन के लक्ष्य को ऑस्ट्रेलिया ने 2 गेंद रहते ही हासिल कर लिया. मैक्सवेल ने टी-20 करियर का तीसरा शतक लगाया. बता दें कि कोहली की कप्तानी में भारत ने सभी प्रारूपों में पिछली 15 श्रृंखलाओं में से 14 में जीत दर्ज की थी जबकि एक ड्रा रही थी. दूसरे टी20 मैच में केएल राहुल (26 गेंदों पर 47) से मिली अच्छी शुरुआत को कोहली और धोनी ने बखूबी आगे बढ़ाया. कोहली ने 38 गेंदों पर दो चौकों और छह छक्कों की मदद से नाबाद 72 रन बनाये जबकि धोनी की 23 गेंद पर खेली गयी 40 रन की पारी में तीन चौके और तीन छक्के शामिल थे. राहुल ने अपनी पारी में तीन चौके और चार छक्के लगाये थे. कोहली और धोनी ने चौथे विकेट के लिये 100 रन जोड़े.

IND vs AUS 2nd T20: ग्‍लेन मैक्‍सवेल का तूफानी शतक, ऑस्‍ट्रेलिया 7 विकेट से जीता, सीरीज पर कब्‍जा


मैक्सवेल ने उनके प्रयासों पर पानी फेरने में कोई कसर नहीं छोड़ी. पिछले मैच में अर्धशतक जड़ने वाले इस बल्लेबाज ने 55 गेंदों पर नाबाद 113 रन बनाये जिसमें सात चौके और नौ छक्के शामिल हैं. उन्होंने डी आर्शी शार्ट (28 गेंद पर 40) के साथ तीसरे विकेट के लिये 73 और पीटर हैंड्सकांब के साथ चौथे विकेट के लिये 99 रन की अटूट साझेदारी की. इसमें हैंडसकांब का योगदान नाबाद 20 रन था. भारत को सिद्धार्थ कौल की अनुभवहीनता महंगी पड़ी जिन्होंने डेथ ओवरों में मैक्सवेल को फुलटास गेंदें करके रन लुटाये. जसप्रीत बुमराह प्रभावी रहे लेकिन भारत को लगातार दूसरे मैच में डेथ ओवरों में उनके अदद साथी की कमी खली. आस्ट्रेलिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही और एक समय उसका स्कोर दो विकेट पर 22 रन था. कोहली ने विजय शंकर (38 रन देकर दो विकेट) से गेंदबाजी का आगाज कराया और अगले ओवर में उनके स्थान पर कौल को गेंद सौंपी जिन्होंने मार्कस स्टोइनिस (सात) की गिल्लियां बिखेरी. शंकर छोर बदलकर गेंदबाजी करने आये और कप्तान आरोन फिंच (आठ) को आउट करने में सफल रहे.

रोहित का शतक बेकार, यह बन गई हार की 'सबसे बड़ी वजह'

शार्ट और मैक्सवेल ने टीम को इन झटकों से उबारा. मैक्सवेल ने बुमराह पर छक्का जड़कर शुरुआत की. शार्ट ने इस बीच उनके सहयोगी की भूमिका बखूबी निभायी. शंकर ने अपने आखिरी ओवर में शार्ट को कवर पर कैच कराकर यह साझेदारी तोड़ी. मैक्सवेल भारत की तरफ से लगे छक्कों का अकेले जवाब देने के मूड में दिख रहे थे. उन्होंने कृणाल पंड्या पर लांग आफ क्षेत्र में लंबा छक्का जड़ने के बाद अगले ओवर में युजवेंद्र चहल की दो गेंदों को छह रन के लिये भेजा. आस्ट्रेलिया को जब चार ओवर में 44 रन की दरकार थी तब भारत का दारोमदार डेथ ओवरों के विशेषज्ञ बुमराह पर टिका था. मैक्सवेल ने उन पर दो चौके लगाये और फिर अगले ओवर में कौल की अनुभवहीनता का फायदा उठाकर दो छक्कों की मदद से 18 रन बटोरे.

टिप्पणियां

बारिश ने सिडनी में ऑस्ट्रेलिया को बचाया, मैच ड्रा, भारत की 2-1 से ऐतिहासिक जीत

बुमराह ने 19वें ओवर में पांच रन दिये लेकिन कौल अंतिम ओवर में नौ रन का बचाव नहीं कर पाये. इससे पहले राहुल ने भारत को अच्छी शुरुआत दिलायी लेकिन रोहित शर्मा की जगह टीम में लिये गये शिखर धवन शुरू से रन बनाने के लिये जूझते रहे. अपने घरेलू मैदान पर खेल रहे राहुल ने जॉय रिचर्डसन पर लगातार दो छक्के जड़ने के बाद अगले ओवर में पैट कमिन्स को भी यही सबक सिखाया लेकिन नाथन कूल्टर नाइल की धीमी गेंद को थर्ड मैन पर खेलने के प्रयास में उन्होंने रिचर्डसन को आसान कैच थमाया और इस तरह से अर्धशतक से चूक गये. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement