NDTV Khabar

भारत ने लिया पुलवामा का बदला, भारतीय वायुसेना ने LOC के पार जाकर जैश के आतंकी कैंपों को किया ध्वस्त

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले का भारत ने बदला लिया है. भारत ने पाकिस्तान में स्थित आतंकी कैंप पर हमला बोला और उनके कई आतंकवादी कैंपों को ध्वस्त कर दिया. यह जानकारी सूत्रों के हवाले से है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. भारतीय वायुसेना ने पुलवामा आतंकी हमले का बदला लिया.
  2. वायुसेना के 12 मिराज ने आतंकी कैंप ध्वस्त किए.
  3. करीब 1000 किलो बम बरसाए गए.
नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले का भारत ने बदला लिया है. भारत ने एलओसी के पार जाकर आतंकी कैंप पर हमला बोला और उनके कई आतंकवादी कैंपों को ध्वस्त कर दिया. सूत्रों की मानें तो भारतीय वायुसेना का यह हमला पूरी तरह से सफल है और आतंकी कैंप पूरी तरह से तबाह हो गए हैं. दरअसल, सोमवार की देर रात भारतीय वायुसेना ने एलओसी पार कर पाकिस्तान सीमा में स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कैंप पर हमला बोला और कई कैंपों को ध्वस्त कर दिया. हालांकि, अभी तक कोई आधिकारिक सूचना नहीं है. 

बताया जा रहा है  कि सुबह 3 बजे के करीब भारतीय वायुसेना के 12 मिराज विमानों ने पीओके के पार जाकर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कैंपों पर हमला बोला. बताया जा रहा है कि यह हमला पूरी तरह से सफल हुआ है. 12 मिराज विमानों ने करीब 1000 किलो बम गिराए. आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि जल्द ही इस ऑपरेशन की जानकारी एयरफोर्स देगा. कारगिल के समय भी वायुसेना का इस्तेमाल किया जाना था, मगर उस वक्त नहीं हो सका था. लेकिन इस बार पहली बार वायुसेना ने एलओसी पार कर आतंकियों के कैंप को तबाह किया है.

एयरफोर्स के हमले के बाद पीएम की अध्यक्षता में हुई CCS की बैठक


सूत्रों की मानें तो भारतीय वायुसेना ने करीब 21 मिनट तक हमले को अंजाम दिया. भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद में 3.48 से 3.55 बजे, चकोटी में 3.58 से 4.04 बजे तक और बालाकोट में 3.45 से 3.53 बजे तक हमले को अंजाम दिया. 

भारतीय वायुसेना की ओर से स्ट्राइक की खबर इस लिए भी तय मानी जा रही है क्योंकि पाकिस्तान ने भी इस बात को स्वीकारा है कि भारतीय वायुसेना का विमान पाकिस्तान में घुसा और पेलोड छोड़ा. मंगलवार की सुबह पाकिस्तान ने भारतीय वायु सेना पर नियंत्रण रेखा का उल्लंघन करने का आरोप लगाया. पाकिस्तान ने भारत पर आरोप लगाते हुए दावा किया है कि भारतीय वायुसेना ने एलओसी को पार किया है. बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे, जिस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है. 

'ये मोदी का हिंदुस्तान है, घर में घुसेगा भी और मारेगा भी'

भारतीय वायुसेना के सूत्रों के मुताबिक, "26 फरवरी को 03:30 बजे (25 फरवरी की रात) भारतीय वायुसेना के मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने नियंत्रण रेखा के पार एक बड़े आतंकवादी कैम्प पर हमला बोला और उसे पूरी तरह तबाह कर दिया...' भारतीय वायुसेना के सूत्रों ने कहा कि IAF विमान ने एलओसी पार आतंकवादियों के कैंप पर करीब 1000 किलोग्राम के बम गिराए.

पाकिस्तान आर्मी के प्रवक्ता मेजर जेनरल आसिफ गफूर ने दावा किया कि मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर से भारतीय विमानों की घुसपैठ हुई. पाकिस्तान वायु सेना की ओर से प्रभावी प्रतिक्रिया देख भारतीय वायुसेना ने पेलोड छोड़ा. हालांकि, इसमें कोई हताहत या नुकसान नहीं हुआ. 

इससे पहले पाकिस्तान की सेना ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास सोमवार को अग्रिम चौकियों और सीमा से सटे इलाकों को निशाना बनाया. पाकिस्तानी सेना ने पिछले हफ्ते में छह दिन उन इलाकों में संघर्षविराम का उल्लंघन किया. एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय सैनिकों ने उसका करारा जवाब दिया है. उन्होंने कहा, ‘नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास शाम के करीब साढ़े छह बजे पाकिस्तान ने अकारण ही गोलीबारी शुरू कर संघर्षविराम का उल्लंघन किया.'  

भारतीय वायुसेना के कारनामे पर बोले राहुल गांधी- IAF के पायलटों को सलाम करता हूं 

टिप्पणियां

दरअसल, गुरुवार यानी 14 फरवरी को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से लदी एक कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी थी, उसमें करीब 60 किलो विस्फोटक थे. इसकी वजह से विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 40 जवान शहीद हो गए.

VIDEO: पाक पर बन पाएगा दबाव?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement