NDTV Khabar

लद्दाख: पैंगोंग लेक के पास भारतीय और चीनी सेना के जवानों में हुई धक्का-मुक्की, दोनों तरफ बढ़ाई गई सैनिकों की संख्या

सूत्रों के मुताबिक भारतीय सैनिक पेट्रोलिंग पर थे उसी दौरान उनका सामना चीन के पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी के सैनिकों के साथ हो गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. पैट्रोलिंग के वक्त आपस में भिड़े
  2. बाद में बातचीत के जरिए मामला सुलझाया
  3. एक दूसरे में हुई धक्का-मुक्की
नई दिल्ली:

पाकिस्तान के साथ तनाव के बीच बुधवार को भारत और चीन के सैनिक भी पूर्वी लद्दाख में आपस में भिड़ गए. सूत्रों के मुताबिक भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच काफ़ी देर तक धक्का-मुक्की होती रही. घटना 134 किलोमीटर लंबी पैंगोंग झील के उत्तरी किनारे पर हुई जिसके एक तिहाई हिस्से पर चीन का नियंत्रण है. सूत्रों के मुताबिक भारतीय सैनिक पेट्रोलिंग पर थे उसी दौरान उनका सामना चीन के पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी के सैनिकों के साथ हो गया. चीनी सैनिक उस जगह पर भारतीय सैनिकों की मौजूदगी का विरोध करने लगे. जिसके बाद दोनों पक्षों के बीच धक्का मुक्की शुरू हो गई.

घटना के बाद दोनों ही तरफ से वहां पर अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा दी गई है. आपको बता दें कि 2017 में सिक्किम-भूटान-तिब्बत सीमा पर डोकलाम में भी दोनों देशों के बीच काफी दिनों तक तनातनी रही थी. और 73 दिनों एक दूसरे के सामने टिके रहने के बाद सैनिक वहां से हटे थे. भारतीय सेना ने इस तनाव के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि आपसी बातचीत के बाद तनाव ख़त्म हो गया है. और उनके पास इस तरह के विवाद के निपटारे के लिए एक मैकेनिज्म है.

SCO मिलिट्री मेडिसिन कॉन्फ्रेंस में नहीं पहुंचा पाकिस्तानी प्रतिनिधि मंडल, भेजा गया था न्योता


गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव चल रहा है. वहीं चीन भी इस मामले में पाकिस्तान का साथ देते हुए दिख रहा है. हालही भारत ने चीनी विदेश मंत्री वांग यी की इस्लामाबाद की यात्रा के संदर्भ में जारी पाकिस्तान-चीन संयुक्त बयान में जम्मू कश्मीर के उल्लेख पर मंगलवार को गहरी आपत्ति दर्ज की थी. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बयान में पाक के कब्जे वाले कश्मीर में चीन..पाकिस्तान आर्थिक कारिडोर के उल्लेख पर कहा था कि भारत क्षेत्र की यथास्थिति को बदलने के किसी दूसरे देश की पहल का पूरे संकल्प के साथ विरोध करता है. इस बारे में एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘चीनी विदेश मंत्री की यात्रा के बाद चीन और पाकिस्तान की ओर से जारी संयुक्त बयान में जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के उल्लेख को हम खारिज करते हैं. जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है.'

कश्मीर पर भारत-पाकिस्तान में जारी तनातनी के बीच संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने दोनों देशों से की यह अपील

टिप्पणियां

साथ ही उन्होंने कहा, ‘‘दूसरी ओर, भारत ने लगातार चीन एवं पाकिस्तान (Pakistan) के तथाकथित ‘चीन पाकिस्तान आर्थिक कारिडोर' परियोजना पर चिंता व्यक्त की है, जो भारत के क्षेत्र में है और जिस पर 1947 के बाद से पाकिस्तान का अवैध कब्जा है.'

एलओसी पर बैट हमले की फिराक में पाकिस्तान, सेना हाई अलर्ट पर 



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement