‘समुद्र सेतु' मिशन के तहत ईरान से 600 से अधिक भारतीयों को वापस लाई भारतीय नौसेना

भारतीय नौसेना विदेशों में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए केंद्र सरकार के ‘समुद्र सेतु' मिशन के तहत बुधवार को ईरान से 600 से अधिक भारतीयों को वापस लेकर आई.

‘समुद्र सेतु' मिशन के तहत ईरान से 600 से अधिक भारतीयों को वापस लाई भारतीय नौसेना

‘समुद्र सेतु’ मिशन के तहत ईरान से 600 से अधिक भारत वापस लाए गए.

खास बातें

  • ईरान से 600 से अधिक भारतीयों को वापस लेकर आई भारतीय नौसेना
  • केंद्र सरकार के ‘समुद्र सेतु’ मिशन के तहत बुधवार को लाया गया
  • नौसेना का जहाज जलाश्व ईरान से 687 भारतीय नागरिकों को वापस लाया
तूतीकोरिन:

भारतीय नौसेना विदेशों में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए केंद्र सरकार के ‘समुद्र सेतु' मिशन के तहत बुधवार को ईरान से 600 से अधिक भारतीयों को वापस लेकर आई. भारतीय नौसेना का जहाज जलाश्व ईरान से 687 भारतीय नागरिकों को वापस लाया और आज यहां वीओसी बंदरगाह पर पहुंचा. लाए गए लोगों में से अधिकतर मछुआरे हैं. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि आज यहां पहुंचे 687 लोगों में से 651 तमिलनाडु के मछुआरे हैं, जबकि 36 अन्य केरल के रहने वाले हैं.

उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘अभियान समुद्र सेतु के तहत नागरिकों को वापस लाने की व्यवस्था में ईरानी सरकार की सहायता की सराहना करता हूं.' जहाज 25 जून को ईरान के बन्दर अब्बास से रवाना हुआ था. जहाज के पहुंचने के बाद बंदरगाह के स्वास्थ्य अधिकारियों ने लोगों की जांच की और उनके सामान को COVID-19 दिशा-निर्देश के अनुसार संक्रमण-मुक्त किया गया.

Newsbeep

यात्रियों से स्व-घोषणा पत्र लिए गए और आव्रजन तथा सीमा शुल्क से जुड़ी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद, उन्हें बसों द्वारा उनके संबंधित जिलों में ले जाया गया. भारतीय नौसेना ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों से फंसे भारतीयों को लाने के लिए अपने जहाजों ''जलाश्व'' और ''ऐरावत'' को तैनात किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: ऑपरेशन समुद्र सेतु: विदेशों में फंसे भारतीयों को लेकर INS जलाश्व कोच्चि पहुंचा



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)