NDTV Khabar

कश्मीर में गिरफ्तारी की खबरों से भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद परेशान, बोलीं- ये बिल्कुल...

सांसद प्रमिला जयपाल ने कहा है कि अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को भारत के खत्म करने के बाद कश्मीर में गिरफ्तारियों की खबरों को लेकर वह परेशान हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कश्मीर में गिरफ्तारी की खबरों से भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद परेशान, बोलीं- ये बिल्कुल...

कश्मीर के ज्यादातर हिस्सों में पाबंदियां हटा दी गईं. हालात में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद हैं प्रमिला जयपाल
  2. कश्मीर में लोगों की गिरफ्तारी की खबरों पर जताई चिंता
  3. बोलीं, लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता जरूरी होती है
वाशिंगटन:

भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल ने कहा है कि जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को भारत के खत्म करने के बाद कश्मीर में गिरफ्तारियों की खबरों को लेकर वह परेशान हैं. अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की सदस्य प्रमिला जयपाल ने कहा,‘कश्मीर में भारत सरकार द्वारा 2,000 लोगों की गिरफ्तारियां किये जाने की खबरों से बहुत परेशान हूं...' डेमोक्रेट सांसद जयपाल अमेरिकी प्रतिनिधि सभा (हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव) में निर्वाचित होने वाली पहली और एकमात्र भारतीय मूल की अमेरिकी महिला हैं. अमेरिकी संसद में मानवाधिकार के मुद्दों को जोर-शोर से उठाने वाली जयपाल ने कहा, ‘लोकतंत्र में पारदर्शिता, उचित प्रक्रिया, एकत्र होने एवं वाक् एवं अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता जरूरी होती है. ये बिल्कुल ही आवश्यक हैं, यहां तक कि सर्वाधिक जटिल परिस्थितियों में भी.' 

आर्टिकल 370 हटने के बाद श्रीनगर के सिविल सचिवालय भवन से हटाया गया राज्य का झंडा, लहराया तिरंगा


उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर न्यूयार्क टाइम्स की एक खबर भी साझा की. अमेरिकी सांसद एडम स्कीफ ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और सूचना तक पहुंच जैसे मूलभूत मानवाधिकारों का अवश्य संरक्षण किया जाना चाहिए. एक दिन पहले अमेरिकी कांग्रेस सदस्य पीटर किंग ने कश्मीर को लेकर भारत-पाकिस्तान के बीच विवाद पर चर्चा करने के लिए न्यूयार्क में नियुक्त भारतीय महावाणिज्य दूत से मुलाकात की थी. पीटर ने कहा,‘कश्मीर को लेकर भारत-पाक विवाद पर चर्चा करने के लिए भारतीय महावाणिज्यदूत से मिला. उनसे कहा कि मैं भारत की कार्रवाई समझता हूं और पाकिस्तान एवं कश्मीर में इस्लामी तत्वों को लेकर चिंतित हूं. 

टिप्पणियां

जम्मू कश्मीर में कब तक जारी रहेंगे प्रतिबंध, इस सवाल के जवाब में सत्यपाल मलिक ने कही ये बात

लेकिन मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए और दोनों देशों के परमाणु शक्तियां होने के मद्देनजर कूटनीतिक समाधान का अनुरोध करता हूं.' वहीं, कांग्रेस सदस्य डॉन बेयर ने कहा, ‘कश्मीर में, खासतौर पर संचार पर पूर्ण पाबंदियों के जारी रहने को लेकर मैं बहुत चिंतित हूं.' उल्लेखनीय है कि शनिवार को कश्मीर के ज्यादातर हिस्सों में पाबंदियां हटा दी गईं. हालात में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement