NDTV Khabar

भारतीय रेल ने कर्मचारियों के लिए होने वाली सतर्कता जांच के नियमों में दी ढील 

रेलवे ने कहा सतर्कता नियमों में ढील देना कर्मचारियों के कामकाज को सुधारने के लिहाज से जरूरी है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय रेल ने कर्मचारियों के लिए होने वाली सतर्कता जांच के नियमों में दी ढील 

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली :

भारतीय रेल ने अपने कर्मचारियों को राहत देते हुए अपने जांच नियमों में ढील दी है. नए फैसले के तहत रेलवे ने किसी कर्मचारी के खिलाफ सतर्कता जांच शुरू करने से पहले निर्णय में त्रुटियों को ध्यान में रखा जाएगा. रेलवे ने अपने निर्देशों में कहा कि सतर्कता नियमों में ढील देना कर्मचारियों के कामकाज को सुधारने के लिहाज से जरूरी है. निर्देशों में कहा गया कि फील्ड में काम कर रहे कर्मचारियों को सशक्त किया जाना चाहिए और उनमें विश्वास पैदा करना है. ताकि वे नियमों की व्यापक संरचना के दायरे में अपने काम के बेहतरीन हित में निर्णय कर सकें.

यह भी पढ़ें: रेल हादसों को रोकने के लिए रेलवे करेगी इस नई तकनीक का इस्तेमाल

फील्ड में काम कर रहे कर्मचारियों से बातचीत में यह बात सामने आयी कि प्रक्रियाओं पर अत्यधिक जोर और सतर्कता के अनुचित भय के कारण कई बार संगठन का कामकाज प्रभावित होता है.  रेलवे सतर्कता नियमावली 2017 के अनुसार मंत्रालय के मुख्य सतर्कता अधिकारी (सीवीओ) और अनुशासनात्मक प्राधिकरण (इस मामले में महाप्रबंधक) सतर्कता मामले में मध्यस्थ हैं.


टिप्पणियां

VIDEO : रेलवे में अभी भी खाली हैं कई पद

नई नीति के अनुसार, सीवीओ की ओर से की जाने वाली सतर्कता जांच में किसी कर्मी के खिलाफ मामला दर्ज करने से पहले संबंधित विभाग के अध्यक्ष की राय ली जाएगी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement