अब काउंटर और एजेंट के जरिये भी बुक होंगे रेल टिकट, जानिये कब से शुरू होगी यह सुविधा

रेलवे की तरफ से एक नोटिफिकेशन जारी कर बताया गया कि अब काउंटर और एजेंटों के जरिये भी टिकटों की बुकिंग हो सकेगी. 

अब काउंटर और एजेंट के जरिये भी बुक होंगे रेल टिकट, जानिये कब से शुरू होगी यह सुविधा

अब काउंटर से भी बुक होंगे रेल टिकट.

नई दिल्ली:

देश में जारी कोरोनावायरस लॉकडाउन के बीच भारतीय रेल ने यात्रियों के लिए 1 जून से 200 ट्रेनें चलाने का फैसला लिया है. इसके लिए टिकटों की बुकिंग आज (गुरुवार) से शुरू हुई है. इस बीच गुरुवार शाम को रेलवे की तरफ से एक नोटिफिकेशन जारी कर बताया गया कि अब काउंटर और एजेंटों के जरिये भी टिकटों की बुकिंग हो सकेगी. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे ने एक महत्वपूर्ण कदम के तौर पर शुक्रवार से चुनिंदा स्टेशनों पर आरक्षण काउंटर खोलने की अनुमति दे दी है जिन्हें लॉकडाउन के कारण करीब दो महीने पहले बंद कर दिया गया था. गोयल ने कहा कि हमें भारत को सामान्य स्थिति की और ले जाना होगा. उन्होंने यह भी कहा कि और अधिक ट्रेनें पुन: शुरू करने के संबंध में घोषणा जल्द की जाएगी. रेलवे बोर्ड ने एक आदेश में कहा कि 22 मई से सामान्य सेवा केंद्रों (सीएससी) में टिकट आरक्षण काउंटर खोले जा सकते हैं. जोनल रेलवे उन स्टेशनों को चिह्नित कर सकते हैं जिनमें टिकट काउंटर खोले जा सकते हैं.

पीयूष गोयल ने कहा, ‘हमें भारत को सामान्य स्थिति की ओर ले जाना है. हम उन स्टेशनों की पहचान करने का प्रोटोकॉल बना रहे हैं जहां काउंटरों को खोला जा सकता है. हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि काउंटरों पर टिकट बुक कराने के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्रित न हों इसलिए हम स्थिति का आकलन कर रहे हैं और इसके लिए प्रोटोकॉल बना रहे हैं.' गोयल ने कहा, ‘हम और ट्रेनों को चलाने की जल्द ही घोषणा करेंगे.'

उन्होंने कहा कि एक मई से श्रमिक विशेष ट्रेनें शुरू करने के साथ रेलवे ने तब से ऐसी 2,050 ट्रेनें चलाईं जिनमें करीब 30 लाख प्रवासियों, छात्रों और अन्य फंसे हुए लोगों को ले जाया गया. रेल मंत्री ने श्रमिक विशेष ट्रेनों को चलाने में रेलवे का सहयोग करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की भी प्रशंसा की तथा सहयोग न करने के लिए पश्चिम बंगाल और झारखंड की आलोचना की. 

इससे पहले रेलवे ने 1 जून से चलने वाली 200 ट्रेनों में सफर के लिए गाइडलाइंस जारी की थी. इन ट्रेनों के जरिए कोई भी सफर कर सकता है. इन ट्रेनों में उन्हीं नियमों का पालन करना होगा, जो फिलहाल विशेष ट्रेनों के लिए लागू हैं. इसके साथ स्टेशन पर स्क्रीनिंग की जाएगी और यात्रियों को सोशल डिस्टैंसिंग के नियमों का अनुपालन करना होगा. समय से पहले स्टेशन पहुंचना होगा और एंट्री और एग्जिट गेट अलग-अलग होंगे. 

ट्रेन बुकिंग से पहले जानें क्या है गाइडलाइन-

  • टिकटों की बुकिंग सिर्फ IRCTC की वेबसाइट या ऐप के माध्यम से होगी.
  • रेलवे की तरफ से जारी नोटिफिकेशन के अनुसार इन ट्रेनों में RAC और वेटिंग टिकट भी उपलब्ध होंगे. हालांकि वेटिंग टिकट वालों को ट्रेन में जाने की इजाजत नहीं होगी.
  • इन ट्रेनों में यात्रा करने वाले सभी यात्रियों की बोर्डिंग स्टेशन पर स्क्रीनिंग की जाएगी और जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं होंगे सिर्फ उन्हीं यात्रियों को यात्रा की इजाजत होगी.
  • ट्रेन के अंदर कंबल उपलब्ध नहीं कराए जाएंगे. यात्रियों को सलाह दी गई है कि वह यात्रा के लिए घर से चादर और कंबल लेकर निकलें.
  • इसके साथ-साथ सभी यात्रियों को आरोग्य सेतु एप्लिकेशन को डाउनलोड करना अनिवार्य होगा. इसके साथ-साथ फेस कवर या फेस मास्क भी जरूरी होगा.
  • यात्रियों को ट्रेन के प्रस्थान समय से 90 मिनट पहले स्टेशन पर पहुंचना होगा. टिकट कैंसिल को लेकर रेलवे के सामान्य नियम लागू होंगे. 

रेलवे ने मंगलवार को अपने ट्वीट में अतिरिक्त ट्रेनें चलाने की घोषणा करते हुए कहा, "श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के अतिरिक्त भारतीय रेल 1 जून से प्रतिदिन 200 अतिरिक्त ट्रेनें चलाने जा रहा है."

वीडियो:  रेलवे प्रवक्ता RD वाजपेयी बोले- कंफर्म या RAC वाले ही कर सकेंगे सफर

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com