NDTV Khabar

CAA के नोटिफिकेशन को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने दाखिल की याचिका

इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने इसके खिलाफ याचिका दाखिल की है. याचिका में CAA के नोटिफिकेशन पर रोक की मांग की गई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

नागरिकता संशोधन कानून के नोटिफिकेशन को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है. इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने इसके खिलाफ याचिका दाखिल की है. याचिका में CAA के नोटिफिकेशन पर रोक की मांग की गई है. बता दें, 10 जनवरी से देश में CAA कानून लागू हो गया है. इसके साथ ही देश में NRC लागू करने की सरकार की क्या योजना है, ये मामला भी सुप्रीम कोर्ट पहुंचा है. इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने ही ये याचिका भी दाखिल की है. याचिका में कहा गया कि सुप्रीम कोर्ट केंद्र सरकार से पूछे कि क्या देशभर में NRC लागू करने की सरकार कोई तैयारी कर रही है?
 इस बाबत केंद्र सरकार से स्पस्टीकरण मांगा जाए.

याचिका में IUML ने CAA  के तहत नागरिकता प्रदान करने के लिए लगभग 40000 गैर-मुस्लिम प्रवासियों की पहचान करने के लिए यूपी सरकार के कदमों का हवाला दिया है और कानून के संचालन पर तत्काल रोक लगाने के लिए कहा है.

...जब CM नीतीश कुमार से पूछा गया CAA-NRC पर सवाल तो हाथ जोड़कर मुस्कुराते हुए टाल दिया


दूसरी अर्जी में NPR और NRC के बीच संबंध को लेकर कथित तौर पर पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और अन्य केंद्रीय मंत्रियों द्वारा विरोधाभासी बयानों का हवाला दिया है. याचिका में मांग की गई है कि अगर NRC अखिल भारतीय NRC के लिए पहला कदम है तो केंद्र सुप्रीम कोर्ट में एक बयान दे. 22 जनवरी को CAA के खिलाफ दाखिल याचिकाओं पर सुनवाई होनी है.

टिप्पणियां

शाहीन बाग में अब कला के जरिए CAA और NRC का विरोध, देखें तस्वीरें

VIDEO: सिटी सेंटर: शाहीन बाग प्रदर्शन को मिला सिखों का समर्थन



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... स्कूल में बच्चे ने 'मेरे पिता' पर लिखा ऐसा निबंध, बोला- 'पापा मर गए, हम खूब रोए...' पढ़कर मंत्री जी ने किया ऐसा

Advertisement