NDTV Khabar

पाकिस्तानी लड़के से निकाह के 3 दिन बाद ही भारतीय महिला ने ली उच्चायोग में शरण, जानें पूरा माजरा

भारत की एक महिला नागरिक उज्मा ने इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग में शरण ली है. सूत्रों के मुताबिक़ भारतीय उच्चायोग उस्मा की काउंसिलिंग कर रहा है. वह भारत में महिला के परिवार के साथ साथ पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के सम्पर्क में भी है. दूसरी तरफ़ महिला के पाकिस्तानी पति ताहिर ने पुलिस में एफआईआर दर्ज कराकर भारतीय उच्चायोग पर उसे ज़बरदस्ती रोकने का आरोप लगाया है. ताहिर और उज्मा मलेशिया में मिले थे.

897 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तानी लड़के से निकाह के 3 दिन बाद ही भारतीय महिला ने ली उच्चायोग में शरण, जानें पूरा माजरा

पुलिस में एफआईआर दर्ज होने के बाद मामला पाकिस्तान विदेश मंत्रालय भी पहुंचा...

खास बातें

  1. भारतीउ महिला उज्मा ने इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग में शरण ली
  2. भारतीय उच्चायोग उज्मा की काउंसिलिंग कर रहा है
  3. उच्चायोग भारत में महिला के परिवार के संपर्क में भी है
नई दिल्ली: भारत की एक महिला नागरिक उज्मा ने इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग में शरण ली है. सूत्रों के मुताबिक़ भारतीय उच्चायोग उस्मा की काउंसिलिंग कर रहा है. वह भारत में महिला के परिवार के साथ साथ पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के सम्पर्क में भी है. दूसरी तरफ़ महिला के पाकिस्तानी पति ताहिर ने पुलिस में एफआईआर दर्ज कराकर भारतीय उच्चायोग पर उसे ज़बरदस्ती रोकने का आरोप लगाया है. ताहिर और उज्मा मलेशिया में मिले थे.

भारत लौटने के बाद उज्मा वाघा बार्डर के रास्ते पाकिस्तान गई. तीन मई को ताहिर और उसका निकाह हुआ. इसके बाद ताहिर का भारतीय वीज़ा लगवाने दोनों भारतीय उच्चायोग गए. ताहिर का आरोप है कि यहां उज्मा को अंदर ही रोक लिया गया और उनके तीन फोन भी वापस नहीं किए गए. सूत्र इस आरोप को बेबुनियाद बता रहे हैं.
 
uzma and her pakistani husband visa 650

उनके मुताबिक़ महिला ने मदद मांगी और इसके बाद ही उसे शरण दी गई. पुलिस में एफआईआर दर्ज होने के बाद मामला पाकिस्तान विदेश मंत्रालय भी पहुंचा और इसके बाद वह भारतीय उच्चायोग के संपर्क में है. इस पूरे मामले में ग़ौरतलब है कि महिला के भारतीय पासपोर्ट पर पाकिस्तान के बुनेर का 30 दिन का वीज़ा है. बुनेर स्वात के पास का शहर है जहां का वीज़ा हासिल करना किसी भारतीय के लिए आसान नहीं है.

इसी बीच पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी किया है. उसमें भारतीय उच्चायोग ने उज्मा के हवाले से कहा है कि ताहित पहले से ही शादीशुदा है और उसके चार बच्चे हैं. उज्मा ने यही शिकायत करते हुए खुद को भारत वापस भेजे जाने का अनुरोध किया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement