भारत की पहली और सबसे पुरानी मस्जिद का होगा कायाकल्प, खर्च होंगे इतने करोड़

भारतीय उपमहाद्वीप की पहली और सबसे पुरानी मस्जिद को उसके मूल स्वरूप में फिर से बनाया जाएगा जिस पर 1.13 करोड़ रुपये का खर्चा आएगा.

भारत की पहली और सबसे पुरानी मस्जिद का होगा कायाकल्प, खर्च होंगे इतने करोड़

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  • भारत की पहली और सबसे पुरानी मस्जिद का होगा कायाकल्प
  • 1.13 करोड़ रुपये का आएगा खर्चा
  • चेरामन जुमा मस्जिद का जीर्णोद्धार किया जाएगा
नई दिल्ली:

भारतीय उपमहाद्वीप की पहली और सबसे पुरानी मस्जिद को उसके मूल स्वरूप में फिर से बनाया जाएगा जिस पर 1.13 करोड़ रुपये का खर्चा आएगा. मुजिरिस हेरिटेज प्रोजेक्ट (एमएचपी) के जरिए चेरामन जुमा मस्जिद का जीर्णोद्धार किया जाएगा. केरल में त्रिशूर के कोडुंगल्लुर में इस ऐतिहासिक मस्जिद का निर्माण 629 ई़ में कराया गया था. एमएचपी ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया है कि केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान रविवार को मस्जिद परिसर में इस परियोजना का उद्घाटन करेंगे. यह परियोजना पर्यटन विभाग की पहल है.

Newsbeep

मीडिया सवालों में उलझाता है, मुस्लिम खुद राम मंदिर बनाने में सहयोग देंगे : इंद्रेश कुमार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राज्य के वित्त मंत्री डॉ टी एम थॉमस इसाक कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे. मुजिरीस सभ्यता में चेरामन मस्जिद का खास स्थान है. इस सभ्यता को प्राचीन विश्व में पूर्वी हिस्से में सबसे बड़े व्यापारिक केंद्र होने का गौरव हासिल था. तब के लोग मसालों से लेकर कीमती रत्नों तक का कारोबार करते थे. 
 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)