Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती आज, इस प्रदर्शनी में देख सकते हैं उनकी दुर्लभ तस्वीरें

इंदिरा के विवाह का असली निमंत्रण कार्ड और उनकी मां के निधन के बाद महात्मा गांधी की ओर से उन्हें लिखा गया एक पत्र भी इन दुर्लभ तस्वीरों में शामिल है.

इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती आज, इस प्रदर्शनी में देख सकते हैं उनकी दुर्लभ तस्वीरें

इंदिरा गांधी की फाइल फोटो

खास बातें

  • इंदिरा गांधी से जुड़ी दुर्लभ तस्वीरों की प्रदर्शनी आज आम जनता के लिए खुली
  • 100वीं जयंती के अवसर पर 17 नवंबर से शुरू हुई है प्रदर्शनी
  • इंदिरा के विवाह का असली निमंत्रण कार्ड भी इसमें है
नई दिल्ली:

आज पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती के अवसर पर 17 नवंबर से शुरू हुई एक प्रदर्शनी में उनसे जुड़ी कई दुर्लभ तस्वीरें पेश की गई हैं. इंदिरा के विवाह का असली निमंत्रण कार्ड और उनकी मां के निधन के बाद महात्मा गांधी की ओर से उन्हें लिखा गया एक पत्र भी इन दुर्लभ तस्वीरों में शामिल है. ‘‘इंदिरा : ए लाइफ ऑफ करेज’’ शीर्षक वाली इस प्रदर्शनी में इंदिरा गांधी स्मृति न्यास के अभिलेखागार से करीब तीन सौ दुर्लभ और पहले कभी नहीं देखी गई तस्वीरें प्रस्तुत की गई हैं. इनके साथ इंदिरा के पसंदीदा परिधानों का संग्रह भी प्रदर्शनी में पेश किया गया है.

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को मिलेगा इंदिरा गांधी शांति पुरस्कार

पांच खंडों में बंटे इस शो के जरिए इंदिरा के जीवन के विभिन्न पहलुओं से लोगों को रूबरू कराया जा रहा है. इसमें शांति निकेतन में उनके शुरूआती दिनों से लेकर भारत के प्रधानमंत्री के तौर पर उनके आखिरी दिनों को शामिल किया गया है.य

अपनी स्कूली पढ़ाई के बाद इंदिरा गांधी रवींद्रनाथ टैगोर के सानिध्य में शांति निकेतन में विश्व भारती यूनिवर्सिटी गईं और वहां बिताए गए दिनों की उनकी तस्वीरें इस प्रदर्शनी का प्रमुख हिस्सा हैं. प्रदर्शनी के क्यूरेटर प्रमोद कुमार केजी ने बताया, हमने शांति निकेतन के दिनों की उनकी जिन तस्वीरों को दिखाया है उनमें टैगोर एवं स्कूल के प्रति उनका आदर झलकता है.

VIDEO-  इंदिरा गांधी के बाद देश की दूसरी महिला रक्षा मंत्री बनीं निर्मला सीतारमण

यह प्रदर्शनी आम लोगों के लिए आज खुली हुई है. दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित सहित कई अन्य गणमान्य राजनीतिक हस्तियों की मौजूदगी में इस प्रदर्शनी का इसका उद्घाटन किया गया.