Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश : संदिग्ध हालात में नवजात की मौत, माता-पिता ने एक दूसरे पर लगाया हत्या का आरोप

पड़ोसियों ने शुक्रवार की रात बच्ची के माता-पिता को एक दूसरे पर चिल्लाते हुए सुना. जब वह वहां पहुंचे तो उन्होंने देखा की बच्ची की मौत हो चुकी थी. एक पड़ोसी ने पुलिस को घटना की जानकारी दी. जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश : संदिग्ध हालात में नवजात की मौत, माता-पिता ने एक दूसरे पर लगाया हत्या का आरोप

मृतका के माता-पिता एक दूसरे पर हत्या का आरोप लगा रहे हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  1. उत्तर प्रदेश के पीलीभीत का मामला
  2. बच्ची की मौत पर मां-बाप आमने-सामने
  3. यूपी पुलिस मामले की कर रही जांच
पीलीभीत:

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में शुक्रवार रात तीन दिन की एक नवजात की मौत हो गई. अब उसकी मौत का आरोप माता-पिता एक दूसरे पर लगा रहे हैं. यह घटना सुनगढ़ी पुलिस थाना क्षेत्र में ईदगाह के पास कांशी राम आवास विकास कॉलोनी की है. रिपोर्ट्स के अनुसार, पड़ोसियों ने शुक्रवार की रात बच्ची के माता-पिता को एक दूसरे पर चिल्लाते हुए सुना. जब वह वहां पहुंचे तो उन्होंने देखा की बच्ची की मौत हो चुकी थी. एक पड़ोसी ने पुलिस को घटना की जानकारी दी. जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आना अभी बाकी है.

बच्ची के पिता मोहम्मद शाकिर के अनुसार, शुक्रवार शाम वह बाजार गया था और जब वापस आया तो देखा कि बच्ची मर चुकी थी. उसकी पत्नी फूल बी शव के पास बैठी थी. पति ने आरोप लगाया कि फूल बी मानसिक तौर पर बीमार है और उसने बेटी का गला घोंटकर उसे मार डाला. वहीं फूल बी ने आरोप को खारिज करते हुए पति पर बच्ची की हत्या का आरोप लगाया.

कार में सराफा व्यापारी, उसकी पत्नी और बेटी का शव मिला, बेटा गंभीर घायल


एसएचओ राजेश कुमार ने कहा कि पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है और रिपोर्ट के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी. इसी बीच पड़ोसी बबलू ने पत्रकारों से कहा कि उसने दंपत्ति के सामने बच्ची को गोद लेने का प्रस्ताव रखा था क्योंकि उसके माता-पिता गरीब थे और वह बच्ची का ध्यान रखने में असमर्थ थे.

शिअद नेता की गोली मारकर हत्या, पार्टी ने लगाया कांग्रेस पर आरोप

शाकिर रिक्शा चालक है और शराब भी पीता है. वह रोज अपनी कमाई का ज्यादातर हिस्सा शराब पर खर्च करता था. बबलू को बच्ची देने के एवज में शाकिर ने 15 हजार रुपए की मांग की थी, ताकि इस पैसे से वह अपनी मानसिक तौर पर बीमार पत्नी का इलाज कर सके. हालांकि शाकिर की मांग के बाद में बबलू ने बच्ची को गोद लेने का विचार त्याग दिया था.

टिप्पणियां

VIDEO: कोर्ट रूम में मर्डर आरोपी की हत्या के मामले में 18 पुलिसकर्मी निलंबित



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... कैसे तेजस्वी और नीतीश की मुलाक़ात के आधे घंटे के अंदर NPR के ख़िलाफ़ प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित हो गया

Advertisement