NDTV Khabar

30 साल बाद भारतीय सेना से रिटायर होगा INS विराट, खरीदार नहीं मिलने पर बना दिया जाएगा कबाड़

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
30 साल बाद भारतीय सेना से रिटायर होगा INS विराट, खरीदार नहीं मिलने पर बना दिया जाएगा कबाड़

आईएनएस विराट ब्रिटेन के रॉयल नेवी में भी 27 सालों तक सेवा दे चुका है.

खास बातें

  1. 1980 के दशक में भारतीय नौसेना ने इसे साढ़े छह करोड़ डॉलर में खरीदा था.
  2. विराट के डेक से कई लड़ाकू विमानों ने 22,622 उड़ान भरी हैं.
  3. INS विराट का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल है.
मुंबई: 30 साल तक भारतीय नौसेना की शान रहा INS विराट सोमवार को रिटायर हो जाएगा. मुंबई में होने वाले एक समारोह में आईएनएस विराट औपचारिक रूप से भारतीय सेना से अलग हो जाएगा. भारत से पहले यह युद्धपोत ब्रिटेन के रॉयल नेवी में 27 सालों तक सेवा दे चुका है. एचएमएस हर्मीस के नाम से पहचाने जाने वाला यह पोत 1959 से रॉयल नेवी की सेवा में था. इसका ध्येय वाक्य 'जलमेव यस्य, बलमेव तस्य' थ. जिसका मतलब होता है, जिसका समंदर पर कब्जा है वही सबसे बलवान है.

नेवी चीफ एडमिरल सुनील लांबा ने बताया कि अगर अगले चार माह के अंदर विराट को कोई खरीदार नहीं मिला तो उसे कबाड़ में बदल दिया जाएगा. भारतीय नौसेना की फ्लैगशिप वॉरशिप रही आईएनएस विराट डी-कमीशनिंग के बाद इसे तोड़ा जाएगा और इसे कबाड़ में बदल दिया जाएगा.

आईएनएस विराट का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल है. ये दुनिया का एकलौता ऐसा जहाज है जो इतने लंबे समय तक सीमा की सुरक्षा में डंटा रहा. इसे 'ग्रेट ओल्ड लेडी' के नाम से भी जाना जाता है. पश्चिमी नौसेना कमान की तरफ से बताया गया था कि यह इतिहास में सबसे ज्यादा सेवा देने वाला पोत है.

आइए इस युद्धपोत के बारे में दिलचस्प बातें जानें-:

टिप्पणियां
1. 1980 के दशक में भारतीय नौसेना ने इसे साढ़े छह करोड़ डॉलर में खरीदा था और 12 मई 1987 को सेवा में शामिल किया.
2. आईएनएस विराट अपने आखिरी मिशन पर 18 दिसंबर को मुंबई से रवाना होकर गोवा पहुंचा था. 
3. इंडियन नेवी में कमिशन होने के पहले INS विराट ब्रिट्रेन की रॉयल नेवी में था.
4. ब्रिटेन की रॉयल नेवी की तरफ से इसने अर्जेंटीना के खिलाफ फॉकलैंड वॉर में हिस्सा लिया था.
5.  24 हजार टन वजनी विराट 743 फुट लंबा और 160 फुट चौड़ा है.
6. यह समुद्र की लहरों को 52 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चिरता रहा.
7. इस पोत में करीब 1500 नौसैनिक रहते थे और एक बार जब यह समंदर में निकलता था तो साथ में तीन महीने का राशन लेकर निकलता था.
8. विराट के डेक से कई लड़ाकू विमानों ने 22,622 उड़ान भरी है. 
9. इसने करीब 2,252 दिन और करीब 10,94,215 किलोमीटर का सफर समुद्र में तय किया है. यानी इतना वक्त जिससे तकरीबन 27 दफे आप दुनिया का चक्कर लगा सकते हैं.
10. विराट को 1987 में 465 मिलियन अमेरिकी डॉलर में खरीदा गया था. इसे खरीदते वक्त सिर्फ 5 साल तक इसे इस्तेमाल करने की योजना थी लेकिन 30 साल तक इसने सेवा दी.

इन्हींं खूबियों के चलते आईएनएस विराट #INSViraat ट्विटर पर ट्रेंड हो रहा है. लोग इसकी उपलब्धियों को गिनाकर गौरवांवित महसूस कर रहे हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement