देश में सबसे ज्यादा गैलेंट्री मेडल लेने वाले पुलिस अफसर बने शहीद इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा

इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्माके नाम का चयन मरणोपरांत गैलेंट्री पदक के लिए हुआ है. असाधारण वीरता के लिए (मरणोपरांत) अशोक चक्र से सम्मानित दिल्ली पुलिस के दिवंगत अधिकारी मोहन चंद शर्मा के नाम इसके साथ ही एक और गैलेंट्री पदक हो गया है.

देश में सबसे ज्यादा गैलेंट्री मेडल लेने वाले पुलिस अफसर बने शहीद इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा

मोहन चंद शर्मा को अशोक चक्र पदक भी हासिल हो चुका है

नई दिल्ली:

वर्ष 2008 में बटला हाउस एनकाउंटर (Batla House encounter) में शहीद और दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल में तैनात रहे इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा (Mohan Chand Sharma) के नाम का चयन मरणोपरांत गैलेंट्री पदक के लिए हुआ है. असाधारण वीरता के लिए (मरणोपरांत) अशोक चक्र से सम्मानित दिल्ली पुलिस के दिवंगत अधिकारी मोहन चंद शर्मा के नाम इसके साथ ही एक और गैलेंट्री पदक हो गया है. अवार्ड पिछले कुछ सालों से लंबित था, आख़िरकर गृह मंत्रालय ने इस पर मोहर लगाते हुए मोहन चंद शर्मा सहित उनकी टीम को इस पुरस्कार के लिए चुना है.

IM का मोस्ट वांटेड आतंकी गिरफ्तार, बटला हाउस एनकाउंटर के बाद से था फरार

मामला साल 2005 का है जब अयोध्या में राम जन्मभूमि पर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कुछ आतंकियों ने फिदायीन हमला किया था. मामले की जांच में यूपी पुलिस के साथ-साथ दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम जुटी हुई थी. जांच में पता चला कि इस घटना को पाकिस्तानी आतंकियों ने अंजाम दिया था. इस फिदायीन हमले को अंजाम देने वाले और साजिश रचने में पाकिस्तानी आतंकी आसिफ उर्फ कारी उर्फ सैफुल्ला भी शामिल था.

Newsbeep

पुलिस के मुताबिक आसिफ जैश-ए-मोहम्मद के डिवीजन कमांडर के तौर जम्मू-कश्मीर में काम कर रहा था.वह दिल्ली में बड़ी वारदात को अंजाम देने की कोशिश में जुटा हुआ था लेकिन इस विशेष ऑपरेशन में स्पेशल सेल की टीम ने एक एनकाउंटर के बाद आतंकियों के पास से 63 लाख रुपये की नकदी, 5 किलोग्राग RDX , 12 हैंड ग्रेनेड , 10 इलेक्टॉनिक डेटोनेटर,  8 मोबाइल फोन, कई चाईनीज हथियार, एक सैटेलाइट फोन और जम्मू-कश्मीर के नाम से फर्जी पहचान पत्र बरामद किए गए और आरोपी पकड़े गए. पिछले कई सालों से यह मामला कोर्ट में लंबित पड़ा हुआ था. सैफुल्ला सहित अन्य आरोपियों को इलाहाबाद कोर्ट ने पिछले साल 18 जून 2019 को दोषी माना. जिसके बाद ये प्रमाणित हो गया कि वह एनकाउंटर भी सही था. इसके बाद स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुशवाहा ने इस मामले को पिछले साल ही पुरस्कार वाली श्रेणी के लिए पुलिस मुख्यालय के जरिये गृहमंत्रालय भेजा था. लिहाजा उन जवानों को पुरस्कार देने का फैसला किया गया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शहीद मोहन चंद शर्मा ने नाम इस गैलेंट्री पदक से उनका नाम देश में सबसे ज्यादा गैलेंट्री पदक पाने वाले पुलिस अधिकारी की लिस्‍ट में शुमार हो गया है. उनके नाम अब तक 9 गैलेन्ट्री  मेडल हैं, लेकिन अब एक और गैलेन्ट्री पदक मिलने की घोषणा के साथ ही देश में सबसे ज्यादा गैलेन्द्री पदक वाले अधिकारियों में उनका नाम दर्ज हो गया है, दिल्ली पुलिस में अभी एक मात्र अशोक चक्र पदक विजेता के तौर पर मोहन चंद शर्मा का नाम दर्ज है.